पीएम ने लिया केदारनाथ में निर्माण कार्यों का जायजा, दिए सुझाव

Spread the love

देहरादून। केदारनाथ यात्रा पर आने वाले तीर्थ यात्रियों को भविष्य में स्थानीय स्थापत्य कला के दर्शन होंगे। यात्रा मार्ग के जरिए श्रद्धालुओं को श्रद्धा एवं आध्यात्म के साथ ही केदारनाथ से जुड़ी पौराणिक एवं ऐतिहासिक ज्ञानवद्ध्र्रक जानकारियां भी दी जाएंगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अफसरों को इसके निर्देश दिए हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए केदारनाथ धाम में चल रहे निर्माण कार्यों की समीक्षा की। प्रधानमंत्री ने कहा कि केदारनाथ धाम के यात्रा मार्ग पर जो भी कार्य किए जाएंगे, उसमें स्थानीय स्थापत्य कला का विशेष ध्यान रखा जाए। पैदल यात्रा मार्ग पर श्रद्धालुओं के लिए रूकने के लिए आश्रय बनाये जाएं। श्रद्धालुओं की सुविधा को ध्यान में रखते हुए पैदल यात्रा मार्ग के समीप घोड़ों के लिए एक नियत स्थान बनाया जाए। प्रधानमंत्री ने अधिकारियों को कहा कि केदारनाथ के पैदल मार्ग निर्माण के दौरान पर्वतीय क्षेत्र की व्यावहारिक दिक्कतों को ध्यान में रखकर कार्य योजना बनाई जाए। इस अवसर पर प्रस्तुतीकरण के जरिए केदारनाथ में प्रस्तावित संग्रहालय एवं पैदल यात्रा मार्ग से जुड़ी जानकारियां दी गई। बताया गया कि यात्रा मार्ग पर केदारनाथ से जुड़े 1882 से अब तक के संस्मरणों को भी दिखाया जाएगा। सोनप्रयाग से गौरीकुंड एवं गौरीकुंड से केदारनाथ तक अलग-अलग थीम पर कार्य किया जायेगा।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र रावत ने कहा कि केदारनाथ पैदल यात्रा मार्ग पर आध्यात्मिक वातावरण एवं स्थानीय स्थापत्य कला के साथ ही केदारनाथ से जुड़ी वैदिक साहित्य, माहाकाव्यों, केदारखण्ड एवं पाण्डुलिपियों में वर्णित जानकारियों का समावेश भी किया जाएगा। उन्होंने सुझाव दिया कि केदारनाथ यात्रा मार्ग पर ऊँ नम: शिवाय की ध्वनि की व्यवस्था हो।
मुख्य सचिवउत्पल कुमार ने बताया कि केदारनाथ में सरस्वती घाट और आस्था पथ का निर्माण पूरा हो गया है। आदि शंकराचार्य समाधि के पुनर्निमाण का काम भी तय समय पर पूरा हो जाएगा। ब्रह्म कमल वाटिका के लिए स्थान चिन्हित कर लिया गया है। तकनीकी परीक्षण के बाद काम शुरू कर दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि केदारनाथ में इस समय 400 के करीब लोग काम कर रहे हैं। इनकी संख्या बढ़ाई जा रही है।
बदरीनाथ के मास्टर प्लान के लिए पीएम से समय मांगा
मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने कहा कि भगवान बदरीनाथ धाम का मास्टर प्लान भी तैयार करा लिया गया है। उन्होंने कहा कि धाम की भव्यता के लिए कई कदम उठाए जा रहे हैं। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मास्टर प्लान के प्रस्तुतिकरण के लिए समय देने का अनुरोध किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!