रेडक्रॉस सोसायटी बनी लॉकडाउन में जरूरतमंदों का सहारा

Spread the love

संवाददाता, बागेश्वर। कोविड-19 के कहर ने पूरे विश्व की दिनचर्या को बदलकर रख दिया। सभी दैनिक गतिविधियां थम सी गई। रोजगार, कारोबार ठप होने से सबसे अधिक परेशानी दैनिक मजदूरी का जीवन यापन करने वालों को उठानी पड़ी। उन्हें दो वक्त की रोटी का जुगाड़ करना भारी पड़ने लगा। ऐसे समय में सरकारी एजेंसी के अलावा कई स्वयं संगठन भी उनकी मदद को आने लगी। जिले में रेडक्रॉस सोसायटी ने अहम भूमिका निभाई। 25 मार्च से सोसायटी गरीबों को राशन और खाद्यान्न वितरण कर रही है। दो महीने के भीतर संस्था जिले के 250 गांवों में 1450 परिवारों तक मदद पहुंचा चुकी है। संस्था को इस काम में नगर के प्रतिष्ठित व्यापारी मुख्तार अहमद, अजीम प्रेमजी फाउंडेशन सहित नगर के व्यापारियों सहित कई लोगों का सहयोग मिला। संस्था के सदस्य जगदीश उपाध्याय, मोहिउद्दीन अहमद, उमेश जोशी आदि के सहयोग से लाखों की धनराशि का राशन एकत्र हो गया। संस्था के कार्यों को देखते हुए जिलाधिकारी ने शासन को इसे मदर सीएसओ के लिए नामित किया। जिसे शासन ने भी तत्काल स्वीकर कर लिया। वर्तमान में सोसायटी मदर एनजीओ के रूप में भी कार्य कर रही है।
कोविड-19 के दौरान रेडक्रास की जिला इकाई ने जिस समर्पण भाव से कार्य किया। इस दौरान मिले सेवा के मौके में पूरी टीम का योगदान सराहनीय रहा। दानदाताओं के विशेष योगदान से संस्था अब भी गरीबों व जरूरतमंदों की सेवा का कार्य कर रही है।
– आलोक पांडेय, जिला सचिव रेडक्रॉससोसायटी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!