संत जयराम दास महाराज बने महंत रामदास महाराज के उत्तराधिकारी

Spread the love
Backup_of_Backup_of_add


आश्रम के सेवा प्रकल्पों को आगे बढ़ाएंगे संत जयराम दास-महंत रघुवीर दास
हरिद्वार। ब्रह्मपुरी स्थित श्री वशिष्ठ आश्रम (दूधाधारी आश्रम) की महंत रामदास महाराज ने संत जयराम दास महाराज को अपना उत्तराधिकारी नियुक्त किया है। आश्रम में संत समाज के सानिध्य में संत जयराम दास महाराज को तिलक चादर प्रदान कर उत्तराधिकारी नियुक्त किया गया। श्री सुदर्शन आश्रम के अध्यक्ष महंत रघुवीर दास महाराज ने संत जयराम दास महाराज को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि संत समाज को आशा है कि संत जयराम दास महाराज अपनी गुरू महंत रामदास महाराज की शिक्षाओं का अनुकरण करते हुए आश्रम के सेवा प्रकल्पों को आगे बढ़ाएंगे और संत महापुरूषों व जरूरतमंदों की सेवा करेंगे। श्री रामानन्दीय वैष्णव मण्डल के अध्यक्ष महंत विष्णुदास महाराज ने कहा कि योग्य गुरू को ही सुयोग्य शिष्य की प्राप्ति होती है। महंत साध्वी रामदास महाराज के शिष्य संत जयराम दास महाराज संत परंपरा का पालन करते हुए सनातन धर्म संस्ति के प्रचार प्रसार में योगदान देंगे। संत समाज उनके उज्जवल भविष्य की कामना करता है। महंत साध्वी रामदास महाराज ने कहा कि संत जयराम दास महाराज शिक्षित व सुयोग्य संत हैं और संत महापुरूषों के आशीर्वाद से आश्रम की गतिविधियों का संचालन करेंगे। विष्णु धाम के परमाध्यक्ष महंत निर्मलदास महाराज ने कहा कि युवा संतों के संचालन में मठ मंदिर उन्नति की और अग्रसर हो रहे हैं। युवा संत जयराम दास महाराज अपने गुरू के बताए मार्ग पर चलते हुए संस्था को ऊंचाईयों की और ले जाएंगे। संत जयराम दास महाराज ने संत समाज का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि पूज्य गुरूदेव महंत रामदास महाराज से प्राप्त ज्ञान व शिक्षाओं का पालन करते हुए सनातन धर्म संस्ति का प्रचार प्रसार व लोगों को धर्म के प्रति जागरूक करना ही उनके जीवन का मुख्य उद्देश्य है। इस अवसर पर महंत प्रेमदास, महंत जानकीदास, महंत गोविंददास, महंत सूरज दास, महंत प्रह्लाद दास, महंत दुर्गादास, महंत बिहारी शरण, महामण्डलेश्वर लक्ष्मण दास, महंत भरतदास, महंत विमल दास, महंत रामलखन दास, दूधाधारी आश्रम ट्रस्ट के अध्यक्ष अशोक कुमार, उपाध्यक्ष ष्ण मुराली अग्रवाल, महंत पटवारी दास, महंत रामकुमार दास सहित बड़ी संख्या में संत मौजूद रहे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!