शराब की दुकान का लाइसेंस निरस्त करने की मांग, आबकारी सचिव को भेजा ज्ञापन

Spread the love

महिलाओं ने शराब की दुकान के विरोध में दिया धरना
जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। नगर निगम के वार्ड नंबर तीन सनेह क्षेत्र में अंग्रेजी शराब की दुकान खोले जाने के विरोध में सातवें दिन भी महिलाओं का धरना-प्रदर्शन जारी रहा। महिलाओं ने शराब की दुकान को निरस्त करने की मांग को लेकर आबकारी सचिव आबकारी विभाग देहरादून को ज्ञापन भेजा है।
महिला कांग्रेस की जिलाध्यक्ष रंजना रावत ने कहा कि कोटद्वार क्षेत्र में वर्षों से स्टेशन रोड में एक दुकान आवंटित थी, लेकिन वर्ष 2020-2021 के लिए आनन-फानन में तीन दुकानें आवंटित की गई है। जिससे अचानक क्षेत्र में शराब की दुकानें खुलने से नशे का कारोबार बढ़ गया है। सनेह में अंग्रेजी शराब की दुकान आवंटित की गई है। स्थानीय लोग उक्त दुकान के विरोध में पिछले सात दिन से धरना दे रहे है। शराब की दुकान खुलने से क्षेत्र में अशांति, नशे, अपराध का माहौल बना हुआ है, क्योंकि उक्त स्थान से चंद कदमों की दूरी पर उत्तर प्रदेश के जनपद बिजनौर की सीमा लगी हुई है। शराब की दुकान खुलने से अपराधी प्रवृत्ति के लोग का क्षेत्र में आना-जाना बढ़ गया है। जिस कारण स्थानीय लोग डरे व सहमें है और क्षेत्र के युवा नशे के आदी हो रहे है। उन्होंने कहा कि स्थानीय लोग पिछले सात दिन से शराब की दुकान को निरस्त एवं अन्यत्र शिफ्ट करने की मांग को लेकर धरना दे रहे है, लेकिन इस ओर ध्यान नहीं दिया जा रहा है। पुलिस प्रशासन की ओर से आंदोलन को समाप्त करने के लिए मुकदमें दर्ज कर महिलाओं में डर पैदा किया जा रहा है। महिलाएं झूठे मुकदमें से डरने वाली नहीं है। रेनू कोटियाल, वीना कोटियाल, सतेश्वरी, कमला नेगी, शोभा देवी, छोटी देवी, पलवी देवी, संगीता, सुनीता, अंजू पुण्डीर ने आबकारी सचिव से उक्त शराब की दुकान को तत्काल निरस्त करने की मांग की है। ताकि क्षेत्र में शांतिपूर्ण माहौल कायम रह सकें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!