सिख समाज ने की जल्द से जल्द गुरूद्वारा ज्ञान गोदड़ी स्थापना की मांग

Spread the love

हरिद्वार। श्री गुरूनानक देव धर्म प्रचार कमेटी की कनखल स्थित विरक्त कुटिया में बाबा पंडत की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में गुरू गोविंद सिंह जयंती के उपलक्ष्य में 18 मार्च को लकसर से निकाली जाने वाली नगर कीर्तन शोभायात्रा की तैयारियों पर चर्चा की गयी। बैठक में जानकारी देते हुए बाबा पंडत ने बताया कि लकसर शुगर मिल से शुरू होने वाली नगर कीर्तन शोभायात्रा एथल, दिनारपुर, एक्कड़, विरक्त कुटिया के सामने से होते हुए नानकपुरा आश्रम में पहुंच कर संपन्न होगी। शोभायात्रा के हरिद्वार पहुंचने पर विरक्त कुटिया की ओर से भव्य स्वागत किया जाएगा। उन्होंने संगत से अधिक से अधिक संख्या में शोभायात्रा में शामिल होने की अपील भी की। बैठक के दौरान कमेटी के पदाधिकारियों व सदस्यों ने गुरूद्वारा ज्ञान गोदड़ी की मांग पूरी ना होने पर रोष भी व्यक्त किया। प्रदेश के नवनियुक्त मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत व राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार बनाए गए स्वामी यतिश्वरानंद को शुभकामनाएं देते हुए व उनके उज्जवल भविष्य की कामना करते हुए अनूप सिंह सिद्धू ने कहा कि कमेटी का एक प्रतिनिधिमण्डल जल्द ही मुख्यमंत्री से मुलाकात कर उन्हें बधाई देगा। साथ ही हरकी पैड़ी स्थित गुरूद्वारा ज्ञान गोदड़ी मूल स्थान सिख समाज को देने की मांग भी की जाएगी। सिख समाज को मुख्यमंत्री से पूरी उम्मीद है कि वे सिखों की भावनाओं का सम्मान करते हुए मांग को पूरा करेंगे। सतपाल सिंह चौहान ने कहा कि गुरूद्वारा ज्ञान गोदड़ी के संबंध में पूर्व कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक की अध्यक्षता में गठित कमेटी आज तक भी समस्या का कोई समाधान नहीं निकाल पायी है। आशा है कि मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत सिख समाज की मांग को जल्द से जल्द पूरा करेंगे। उज्जवल सिंह ने कहा कि सिख समाज कई सालों से शांति पूर्वक गुरूद्वारा ज्ञान गोदड़ी को लेकर संघर्ष कर रहा है। सिख समाज की भावनाओं का सम्मान करते हुए सरकार को जल्द से जल्द गुरूद्वारा ज्ञान गोदड़ी की स्थापना का मार्ग प्रशस्त करना चाहिए। बैठक में गुरजिंदर सिंह बाजवा, योगराज सिंह, साहब सिंह, परमजीत सिंह, मालक सिंह, राजू सिंह आदि सहित कई लोग मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!