एएसपी, एसीजीएम ने 100 किमी साइकिल चलाकर दिया नशा छोड़ने का संदेश

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। रविवार को नशा निरोधक सप्ताह के समापन पर अपर पुलिस अधीक्षक प्रदीप राय, अपर मुख्य न्यायिक
मजिस्ट्रेट संदीप तिवारी, सिविल जज जूनियर डिवीजन विवेक राणा ने रविवार को 100 किमी. साइकिल यात्रा करके नशा
छोड़ने का संदेश दिया। यात्रा का एकमात्र उद्देश्य कोटद्वार में लगातार युवाओं में बढ़ रहे नशे की प्रवृत्ति को रोकना है और
शहर को नशा मुक्त बनाना है। एएसपी प्रदीय राय ने कहा कि नशे की प्रवृति से स्वयं बचें और दूसरों को भी बचाएं।
क्योंकि यह नशे की कोई बीमारी पूरे घर को खोखला कर देती है।
रविवार को अपर पुलिस अधीक्षक प्रदीप राय, एसीजीएम संदीप तिवारी, सिविल जज जूनियर डिवीजन विवेक
राणा ने सिम्मबलचौड़ से साइकिल यात्रा शुरू की। यात्रा देवी रोड से होते हुए बदरीनाथ मार्ग, सिद्धबली पहुंची, सिद्धबली से
वापस लोक निर्माण विभाग कॉलोनी गिवई स्रोत, बदरीनाथ मार्ग से होते हुए कोतवाली पहुंची। जहां कोतवाली प्रभारी
निरीक्षक मनोज रतूड़ी, एसएसआई प्रदीप नेगी, एसआई कृपाल सिंह ने फूलों से स्वागत किया। एएसपी प्रदीप राय ने
बताया कि नशे के खिलाफ जन जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। 22 से 28 जून तक नशा निरोधक सप्ताह
मनाया गया। पिछले एक सप्ताह से कोटद्वार पुलिस और यातायात पुलिस आम जनता को नशे के खिलाफ जागरूक कर
रही है। ताकि युवाओं को नशे के दुष्परिणामों की जानकारी मिल सके और वह इससे दूर रहे। उन्होंने कहा कि कोरोना ने
हमें बहुत कुछ सीखा दिया है। जब भी बुरा वक्त आये तो उसके बाद अच्छा वक्त अवश्य आता है। उन्होंने संदेश देते हुए
कहा कि जीवन बहुमूल्य है। इसे स्वस्थ व बेहतर रखने के लिए हमें नशे जैसी बुराइयों से दूर रहना चाहिए। जीवन को
सफल बनाये, शारीरिक, मानसिक और आध्यमिक रूप से स्वस्थ बनें। एएसपी ने कहा कि नशे का सेवन हर तरह से
नुकसानदेह है। नशे के खात्मे के लिए हर व्यक्ति को अपना योगदान देना चाहिए। उन्होंने कहा कि यदि कोई व्यक्ति नशा
करता है तो उसे नशे का त्याग करने के लिए प्रेरित किया जाए। उन्होंने नशा त्याग व सजग रहने का संदेश दिया।

बॉक्स समाचार
साइकिल रैली निकालकर नशे के प्रति किया जागरूक
पुलिस कर्मियों ने रविवार को शहर में साइकिल रैली निकाली। कोतवाली प्रभारी निरीक्षक मनोज रतूड़ी ने हरी झण्डी
दिखाकर रैली को थाने से रवाना किया। रैली बदरीनाथ मार्ग, झण्डाचौक, नजीबाबाद रोड, कौड़िया, बीएल रोड से होते हुए
तड़ियाल चौक पहुंची। तड़ियाल चौक से देवी मंदिर, पदमपुर, मानपुर, पटेल मार्ग से होते हुए कोतवाली पहुुंची।
कोतवाल मनोज रतूड़ी ने कहा कि नशा नाश की जड़ है। नशापान से आज तक किसी का भला नहीं हुआ है, बल्कि
परिवार, समाज में बिखराव उत्पन्न करने में नशे ने भूमिका निभाई है। शरीर को नुकसान के साथ ही आर्थिक नुकसान
भी उठाना पड़ता है। आज की युवा पीढ़ी नशे की चपेट में आकर अपना जीवन तबाह करने पर तुले हुए हैं। जिसे त्याग
करने में ही भलाई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!