रोपवे और पार्क निर्माण के सुझाव दिए

Spread the love

नई टिहरी। जनपद में पर्यटन संभावनाओं को तलाशने के लिए इन दिनों वेव कंसल्टेंसी सर्वे का कार्य कर रही है। सर्वे के तहत अवस्थापना निदेशक संदीप खण्डुड़ी भी भ्रमण पर हैं। खण्डुड़ी से मिलकर व्यापारियों व होटल एसोसियेशन ने टिहरी के पर्यटन विकास को लेकर विभिन्न सुझाव रखे। जिन पर गौर करने का भरोसा दिया गया। व्यापारियों व होटलियरों ने विचार रखते हुये निदेशक को बताया कि कोटी कालोनी से प्रस्तावित रोपवे को नई टिहरी के देवी धार पिकनिक स्पॉट तक जोड़ा जाए। एक स्टाप जेल रोड पर स्थित बद्री पंडा आईटीआई के ऊपर निर्मित किया जाए। डाईजर में स्थित वन विभाग की चौकी से देवीधार पिकनिक स्पॉट तक ट्रैकिंग रूट बनाने के साथ ही छमुंड से देवीधार तक ट्रैकिंग रूट बनाया जाय। नई टिहरी के प्रवेश द्वार डाईजर में पर्यटक स्वागत केंद्र बनाने के साथ ही नई टिहरी के डाईजर गधेरे पर कृत्रिम झील निर्माण की संभावनाओं को तलाशा जाए। वन विभाग के सहयोग से डाईजर के समीप, भामाशाह वाटिका व टिहरी बांध वन विभाग की नर्सरी स्थल पर इको पार्क का निर्माण किया जाय। नई टिहरी नगर को यात्रा रूट से जोड़ा जाए समीपवर्ती गांव जलेडी व केमसारी को सड़क मार्ग से जोड़ा जाय। पूर्व प्रस्तावित सुरकंडा, कुंजापुरी व चंद्रबदनी पर्यटन सर्किट से पौराणिक सूरी देवी मंदिर नई टिहरी को जोड़ा जाए। नई टिहरी नगर में सांस्कृतिक केंद्र एवं संग्रहालय के लिए पूर्व चयनित भूमि पर भवन निर्माण किया जाय। ऐतिहासिक पौराणिक टिहरी नगर की स्मृति मे टिहरी को प्रतिकृति बनाया जाए। नई टिहरी नगर के पूर्व प्रस्तावित मास्टर प्लान में ग्रीन पार्क, चाइल्ड पार्क, रॉक गार्डन, डिजनी पार्क का निर्माण करवाया जाय। धनोल्टी एवं ऋषिकेश से बाया चंबा से नई टिहरी तक सड़क मार्गों के समीप व्यू प्वाइंट बनाए जायें। टीएचडीसी गेस्ट हाउस के पीछे वन स्थल मे चिड़ियाघर निर्मित करने के साथ ही सुमन पार्क का विस्तार, सूरी देवी मंदिर एवं टीएचडीसी अतिथि गृह के समीप स्थित पार्किंग का विस्तार, पड़ियार भवन के समीप पार्किंग का निर्माण, जिला कलेक्ट्रेट के समीप कलेक्ट्रेट की ओर आने वाली एवं डीएफओ के बंगले की ओर जाने वाली सड़क के मध्य नई पार्किंग का निर्माण किया जाए। नई टिहरी नगर के लिए ग्रेविटी पेयजल योजना बनाने के साथ ही कोटी कॉलोनी में पेयजल आपूर्ति को मिनी ट्यूबवेल बनाने का प्रस्ताव निदेशक के सम्मुख रखा गया। जिस पर निदेशक ने विचार करने और शासन के समक्ष प्रस्ताव रखने की बात कही। इस मौके पर पर्यटन अधिकारी सुरेश कुमार यादव, होटल एसोसियेशन के संरक्षक दिनेश डोभाल, लक्ष्मी भट्ट, व्यापार मंडल अध्यक्ष ज्योति प्रसाद, व्यापार मंडल के जिला महामंत्री कर्म सिंह तोपवाल, ओम प्रकाश रतूड़ी, शीशराम थपलियाल आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!