सुरेखा के कुलपति बनने से देवप्रयाग में खुशी की लहर

Spread the love

नई टिहरी। प्रो. सुरेखा डंगवाल के दून विश्वविद्यालय के कुलपति बनने पर उनके गृहनगर देवप्रयाग में खुशी की लहर है। इससे पूर्व देवप्रयाग निवासी डॉ. पीपी ध्यानी भी श्रीदेव सुमन विवि के कुल पति बन चुके हैं।
प्रो. सुरेखा डंगवाल मूलरुप से देवप्रयाग के निकट अमिल्डा गांव निवासी हैं। तीर्थ पुरोहित समाज से जुड़े उनके पिता स्व. प्रभुदयाल ध्यानी खाद्य सुरक्षा अधिकारी रहे थे। कुलपति प्रो. सुरेखा की शुरुआती शिक्षा सरस्वती शिशु मंदिर व जीजीआईसी में हुई। श्रीनगर से उच्च शिक्षा लेते हुए उन्होंने एमफिल व पीएचडी की। 1987 से 1990 तक वह देवप्रयाग महाविद्यालय में अंग्रेजी की प्रवक्ता रही। 1997 में हिल्ट्रोन की अध्यक्ष बनी। अपने गृहनगर देवप्रयाग में उन्होंने बालिका शिक्षा को प्रोत्साहित करने में भी अहम भूमिका निभाई। देवप्रयाग समाज से जुड़ी प्रो. सुरेखा डंगवाल के दून विवि का कुलपति बनाये जाने पर बदरीश पंडा पंचायत, नक्षत्र वेधशाला संस्थान, जाह्नवी संस्था सहित राजकीय महाविद्यालय देवप्रयाग स्टाफ ने विशेष हर्ष जताते हुए इसे नगर व क्षेत्र के लिए गर्व की बात बताया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!