हर किसी को मिलें योजना का लाभ, अधिकारी रखें इसका ध्यान: डीएम

Spread the love

समग्र शिक्षा एवं मिड-डे मील योजना के तहत आयोजित की गई बैठक
जयंत प्रतिनिधि
रूद्रप्रयाग: नैनिहालों को सरकारी योजना का लाभ मिल सकें इसके लिए जिलाधिकारी मनुज गोयल ने विभागीय अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए। कहा कि प्रत्येक बच्चे को योजना का बेहतर लाभ मिल सकें इसकी जिम्मेदारी विभागीय अधिकारियों की है।
कलक्ट्रेट सभागार में समग्र शिक्षा एवं मध्याहन भोजन योजना के तहत संचालित कार्यक्रम की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी मनुज गोयल ने कहा कि समग्र शिक्षा ने स्कूली छात्रों के बेहतर विकास के लिए जो आयाम दिये है उनका लाभ हर छात्र तक पहुॅचाने की जिम्मेदारी शिक्षा विभाग की है। जिलाधिकारी ने इस बात पर जोर दिया कि छात्र-छात्राओं के लिए आवश्यकता के अनुरूप योजना तैयार करनी होगी। कहा कि इसके लिए अधिकारियों को एक सप्ताह के भीतर प्लान तैयार करना होगा। जिलाधिकारी ने समीक्षा बैठक में उपस्थित शिक्षा विभाग के अधिकारियों को निर्देष देते हुए कहा कि छात्र हित मे उपलब्ध संसाधनों का बेहतर इस्तेमाल हो इसके लिए पूर्वाभ्यास कर ले। साथ ही मुख्य विकास अधिकारी के निर्देश में योजनाओं के क्रियान्वय की रूपरेखा तैयार की जाएगी। जिलाधिकारी ने इस बात पर भी जोर दिया कि प्रतिस्पर्धा के इस दौर मे ग्रामीण परिवेष मे पले बढे़ नौनिहालों को तरक्की की राह दिखाने की जरूरत है, इस पर विभाग को आंतरिक समन्वय एवं मंथन कर रूप रेखा तैयार करनी चाहिए।
बैठक में मुख्य विकास अधिकारी नरेष कुमार ने समग्र षिक्षा एवं मिड डे मील योजनाओं की विभिन्न गतिविधयों की समीक्षा की, बैठक के दौरान पी0पी0टी0 के जरिय, निर्माण कार्यो पर चर्चा के दौरान सी0डी0ओ0 ने समय से कार्य पूरा करने के निर्देष दिए व कहा कि छोटी सी कमियों के कारण लंबित चल रहे कार्यो का तत्काल निराकरण किया जाय, उन्होने समग्र षिक्षा के तहत खोले जा रहे बैंक खातों की प्रगति पर भी विस्तार से चर्चा की। षिक्षा के अधिकार अधिनियम के तहत निजी विद्यालयों के छात्रों को मिलने वाली सुविधाओं पर समीक्षा करते हुए मुख्य विकास अधिकारी ने बी0पी0एल0 श्रेणी पर पुख्ता जानकारी जुटाने को कहा, जिला परियोजना अधिकारी एल0एस0 दानू ने माध्यमिक स्तर पर संचालित नवाचारी कार्यक्रम विद्यालय विकास अनुदान, राष्ट्रीय आविश्कार अभियान समावेषी षिक्षा षिक्षक प्रषिक्षण कार्यक्रमों का ब्यौरा प्रस्तुत किया, इस दौरान प्रारंभिक षिक्षा के अंतर्गत नि:षुल्क पाठय पुस्तक एवं गणवेष वितरण, सामुदायिक सहभागिता, पुस्तकालय स्थापना आदि मदो के लिए प्रस्तावित बजट एवं अवमुक्त बजट पर भी चर्चा की गई, मिड डे मील योजना पर चर्चा के दौरान बताया गया कि मौजूदा समय मे पके पकाये भोजन के स्थान पर खाद्य सुरक्षा भत्ता छात्रों को दिया जा रहा है, साथ ही कीचन गार्डन विकसित करने विद्यालयों मे गैस संयोजन, भोजन माताओं के कार्य एवं दायित्वों व कीचन कम स्टोर निर्माण की समीक्षा की गई है।
बैठक में, मुख्य शिक्षा अधिकारी सी0एन0 काला, समाज कल्याण अधिकारी सुनीता अरोडा, डॉ0 आषुतोश, खण्ड षिक्षा अधिकारी के0एस0 वर्मा, उप षिक्षा अधिकारी रद्युवीर लाल भारती, ओम प्रकाष सेमवाल, के अलावा लोनिवि, ग्रामीण विकास, बाल विकास विभाग के अधिकारी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!