मैडम यातायात पुलिस को पठाएं अनुशासन का पाठ

Spread the love
Backup_of_Backup_of_add

नवनियुक्त एसएसपी श्वेता चौबे के जनता दरबार में बोले क्षेत्रवासी
यातायात, अपराध व अन्य समस्याओं से एसएसपी को कराया अवगत
जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार: नवनियुक्त वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्वेता चौबे के जनता दरबार में क्षेत्रवासियों ने यातायात पुलिस के व्यवहार पर नाराजगी व्यक्त की। क्षेत्रवासियों ने एसएसपी से पुलिस कर्मियों को अनुशासन का पाठ पढ़ाने की अपील की। कहा कि वाहन तलाशी के दौरान पुलिस कर्मी वरिष्ठ नागरिकों से अभद्रता करते हैं। इस दौरान क्षेत्रवासियों ने एसएसपी को यातायात, अतिक्रमण व अन्य अपराधों से अवगत करवाया। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने क्षेत्रवासियों को सभी समस्याओं के निराकरण का आश्वासन दिया।
गुरुवार को वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्वेता चौबे की ओर से कोटद्वार कोतवाली में जनता दरबार लगाया गया। जनता दरबार में विभिन्न संगठन व राजनीतिक दलों से जुड़े सदस्यों ने एसएसपी को जनसमस्याओं से अवगत करवाया। जनाधिकार मंच के अध्यक्ष आशाराम ने कहा कि यातायात पुलिस की ओर से शहर में चेकिंग अभियान चलाया जाता है। लेकिन, पुलिस कर्मियों का वाहन चला रहे वरिष्ठ नागरिक व महिलाओं से व्यवहार ठीक नहीं रहता। नगर कांग्रेस अध्यक्ष संजय मित्तल ने गोखले मार्ग को वन-वे बनाए जाने का विरोध किया। उन्होंने कहा कि पुलिस राष्ट्रीय राजमार्ग के बजाय गोखले मार्ग की संकरी सड़क से यातायात चलवा रही है। इससे हर समय दुर्घटनाओं का अंदेशा बना रहता है। व्यापार मंडल के अध्यक्ष महेंद्र बिष्ट ने पुलिस से शहर में यातायात व्यवस्था को बेहतर बनाने की मांग की। कहा कि शहर में पार्किंग व्यवस्था नहीं होने से कई लोग अपने वाहनों को व्यापारियों की दुकान के बाहर खड़ा कर देते हैं। जिससे व्यापारियों को परेशानियों का सामना करना पड़ता है। इसके चक्कर में कई बार व्यापारी व वाहन चालकों के बीच विवाद भी हो चुका है। इस दौरान क्षेत्रवासियों ने शहर में आपराधिक घटनाओं को रोकने के लिए जगह-जगह सीसीटीवी कैमरे लगवाने की भी मांग उठाई। साथ ही बाहर से आने वाले लोगों के सत्यापन की भी मांग की गई। कहा कि बाहरी व्यक्तियों के सत्यापन को लेकर पुलिस लापरवाह बनी हुई है। वहीं, एसएसपी ने आमजन को जल्द ही समस्याओं के निराकरण का आश्वासन दिया।

हर दो माह में लगेगा जनता दरबार
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्वेता चौबे ने कहा कि कोटद्वार गढ़वाल का द्वार है। ऐसे में उनका मुख्य उद्देश्य शहर को अपराध मुक्त बनाना है। कहा कि वह हर दो माह में एक बार कोतवाली में जनता दरबार लगाएंगी। कहा कि कोई भी व्यक्ति उन्हें फोन पर अपनी समस्या से भी अवगत करवा सकता है।

पीड़ितों की उमड़ी रही भीड़
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के समक्ष अपनी परेशानी रखने के लिए कोतवाली में पीड़ितों की भीड़ उमड़ी रही। एसएसपी ने प्रत्येक पीड़ित को समय देते हुए अलग से उनकी समस्याएं सुनी। साथ ही उन्होंने पुलिस अधिकारियों को समस्याओं के जल्द निराकरण के निर्देश भी दिए। कहा कि पीड़ितों को समय पर न्याय मिल सकें इसके लिए पुलिस को गंभीरता से कार्य करना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!