त्यौहारी सीजन में खुल जाती है खाद्य विभाग की नींद

Spread the love

-खाद्य विभाग ने चार होटल में की मावे और मिठाई की सैंपलिंग
जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार।
त्यौहारी सीजन नजदीक आते ही खाद्य विभाग गहरी नींद से जाग जाता है। हर वर्ष होली और दीपावली के त्यौहार से पूर्व खाद्य विभाग के अधिकारी प्रशासन की टीम के साथ होटलों में मावे और मिठाई की सैंपलिंग पहुंच जाते है। हालांकि पूरे वर्ष खाद्य विभाग चैन की नींद सोया रहता है। होली के त्यौहार से पूर्व खाद्य विभाग की टीम ने शहर के चार होटलों में मावे और मिठाई की सैंपलिंग की है। जिसके सैंपल जांच के लिए रूद्रपुर भेज दिए गए हैं।
शुक्रवार देर सांय एसडीएम अर्पणा ढौंडियाल के नेतृत्व में खाद्य निरीक्षक कोटद्वार अनिल मिश्रा, पूर्ति निरीक्षक करन क्षेत्री की संयुक्त टीम ने शहर के टूरिस्ट होटल, सिद्धबली बाबा, सिद्धबली स्वीटस और हॉट एंड कोल्ड होटलों में मावे और मिठाई की सैंपलिंग की है। हालांकि खाद्य विभाग को इस सैंपलिंग की याद पूरे वर्ष नहीं आती है। सिर्फ होली और दीपावली के त्यौहार पर ही होटलों में मावे और मिठाई की सैंपलिंग करके खाद्य विभाग अपने कार्यों की इतिश्री कर लेता है। खाद्य निरीक्षक अनिल मिश्रा ने बताया कि एसडीएम अर्पणा ढौडियाल के दिशा-निर्देशन में होटलों में छापेमारी का अभियान चलाया गया था। जिसमें उक्त होटलों में मावे और मिठाई की सैंपलिंग की है। सैंपलिंग के बाद मावे और मिठाई के सैंपल जांच के लिए रूद्रपुर भेज दिए है। जिसकी जांच रिपोर्ट लगभग एक माह बाद आएगी। जिला खाद्य अधिकारी प्रमोद रावत ने कहा कि शुक्रवार को कोटद्वार के होटलों में सैंपलिंग हुई है, लेकिन इसकी पुख्ता जानकारी उनके पास भी नहीं है। जिससे यह साफ हो गया है कि छापेमारी के नाम पर मात्र होटलों में होने वाली मावे और मिठाई की सैंपलिंग महज खानापूर्ति के लिए हो रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!