उत्तराखण्ड़ स्वास्थ्य विभाग को मिले 403 नए डॉक्टर

Spread the love

देहरादून। स्वास्थ्य विभाग को 403 नए डॉक्टर मिल गए हैं। चिकित्सा चयन आयोग की ओर से रविवार को डॉक्टरों की भर्ती का रिजल्ट जारी किया गया। इसके साथ ही राज्य में डॉक्टरों के अधिकांश पद भर जाएंगे। सरकार ने चिकित्सा चयन आयोग को 700 के करीब पदों पर भर्ती का प्रस्ताव दिया था। इसके आधार पर आयोग ने भर्ती की तो कुल 403 डॉक्टरों को चयनित किया गया है। इसमें 59 डॉक्टर विशेषज्ञ श्रेणी के हैं जिनमें गाइनी, आर्थो, एनेस्थीसिया आदि के डॉक्टर शामिल हैं। आयोग के अध्यक्ष डॉ डीएस रावत ने बताया कि सात सौ में से 403 पदों पर डॉक्टरों का चयन कर लिया गया है। उन्होंने कहा कि आरक्षित श्रेणी में उम्मीदवार न मिलने की वजह से तीन सौ के करीब पद खाली रह गए हैं। उन्होंने बताया कि आयोग ने पिछले दो सालों के दौरान राज्य में 1400 के करीब डॉक्टरों की भर्ती की है। उन्होंने कहा कि चयनित डॉक्टरों को नियुक्ति की प्रक्रिया अब विभाग की ओर से की जाएगी। यदि ये सभी डॉक्टर ज्वाइन करते हैं तो राज्य के अस्पतालों में डॉक्टरों की कमी काफी हद तक दूर हो जाएगी।
डॉक्टरों के अधिकांश पद भरे: राज्य में डॉक्टरों की समस्या धीरे धीरे खत्म हो रही है। स्वास्थ्य महानिदेशक डॉ तृप्ति बहुगुणा ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग में डॉक्टरों के कुल 2735 पद हैं। इसमें से नियमित डॉक्टरों की संख्या अब 2000 के पास पहुंच गई है। जबकि पांच सौ के करीब डॉक्टर संविदा के भी हैं। इन सभी को जोड़ दिया जाए तो राज्य में कार्यरत डॉक्टरों की संख्या अब 2500 के करीब पहुंच जाएगी। राज्य में पहले डॉक्टरों के पद बड़ी संख्या में खाली थे। लेकिन कोविड काल व उससे पहले के एक साल में बड़ी संख्या में डॉक्टरों की भर्ती होने से अब अधिकांश पद भर लिए गए हैं। डीजी हेल्थ डॉ तृप्ति बहुगुणा ने बताया कि नए चयनित डॉक्टरों के लिए काउंसिल की प्रक्रिया अपनाई जाएगी। उन्होंने कहा कि नए डॉक्टरों को कुछ समय के लिए प्रशिक्षित डॉक्टरों के साथ तैनात किया जाएगा ताकि उन्हें इमरजेंसी मरीजों के इलाज में किसी तरह की परेशानी न हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!