हाईटेंशन की चपेट में आने से महिला की मौत, परिजनों ने किया हंगामा

Spread the love
Backup_of_Backup_of_add

जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार: भाबर क्षेत्र के अंतर्गत मवाकोट मालन नदी के समीप जंगल में घास लेने गई एक महिला की हाईटेंशन लाइन की चपेट में आने से मौत हो गई। वहीं, सूचना के बाद भी मौके पर एंबुलेंस नहीं पहुंचने पर मृतिका के स्वजनों ने अस्पताल में हंगामा किया। पुलिस के समझाने के बाद स्वजन शांत हुए।
कलालघाटी निवासी गीता देवी (57 वर्ष) पत्नी सुरेंद्र सिंह मंगलवार दोहपर अपनी जेठानी के साथ जंगल में घास लेने गई हुई थी। पेड़ में चढ़ घास काटने के दौरान अचानक गीता हाईटेंशन लाइन के करंट की चपेट में आ गई और जमीन पर गिर गई। मौके पर मौजूद गीता की जेठानी ने घटना की जानकारी स्वजनों को दी। गीता देवी के बेटे चंद्रदीप ने बताया कि करंट से झुलसी अपनी मां को अस्पताल पहुंचाने के लिए उन्होंने तुरंत आपातकालीन सेवा 108 को फोन पर सूचना दी। लेकिन, एक घंटे इंतजार के बाद भी जब वाहन मौके पर नहीं पहुंचा तो वे किसी अन्य निजी वाहन से अपनी माता को लेकर बेस चिकित्सालय पहुंचे, जहां चिकित्सकों ने उनकी माता को मृत घोषित कर दिया। उपनिरीक्षक ममता मखमोला ने बताया कि आपातकालीन सेवा के समय पर न पहुंचने पर स्वजन काफी नाराज दिखे व उन्होंने अस्पताल प्रशासन के खिलाफ रोष व्यक्त किया। लेकिन, पुलिस ने उन्हें समझाते हुए शांति करवाया। अस्पताल प्रशासन का कहना था कि स्वजनों की ओर से आपातकालीन सेवा को गलत लोकेशन दी गई थी। जिसके कारण घटनास्थल पर पहुंचने में समय लग गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!