श्रमिक एक दिवसीय अनशन पर बैठे

Spread the love
Backup_of_Backup_of_add

रुद्रपुर। 1 मई मजदूर दिवस के अवसर पर इन्टरार्क मजदूरों का धरना पारले चौक सिडकुल पंतनगर में जारी है। इस दौरान मांगों को लेकर समाजसेवी सुब्रत कुमार अनशन पर बैठे। उनके साथ श्रमिक मनोज चंद, संजीव कुमार यादव, गौरव शर्मा, जीत लाल, गैंदन लाल और वीरेंद्र कुमार भी अनशन पर बैठे। इस दौरान वहां पर श्रमिक संयुक्त मोर्चा उधम सिंह नगर एवं उससे जुड़ी यूनियनों, सामाजिक संगठनों, किसान संगठनों के साथ-साथ इन्टरार्क कंपनी के मजदूर भी भारी संख्या में उपस्थित थे। इस दौरान सभी ने मजदूरों के शोषण के खिलाफ सामूहिक आंदोलन करने का संकल्प लिया। सभा को संबोधित करते हुए समाजसेवी सुब्रत कुमार विश्वास ने कहा कि सिडकुल समेत पूरे उत्तराखंड में स्थापित उद्योगों में मजदूरों का घोर शोषण हो रहा है। इन उद्योगों में 80 से 90 फीसदी तक मजदूर ठेका, अप्रेंटिस, फिक्सटर्म, नीम ट्रेनिंग, कैजुअल, वाईएसएफ के तहत बेहद ही मामूली मजदूरी पर गुलामों की भांति कार्य करने को विवश है। कानून के अनुसार इन सभी मजदूरों को स्थाई किया जाना चाहिये। बढ़ती महंगाई में न्यूनतम वेतनमान 25 हजार रुपये करने एवं महिला श्रमिकों को भी पुरुष मजदूरों के समान ही वेतन दिया जाना न्यायहित में आवश्यक है। समान काम का समान वेतन देने , स्थाई काम पर स्थाई नियुक्ति करने, सभी मजदूरों को नियमानुसार न्यूनतम वेतन-बोनस- ओवरटाइम का डबल भुगतान करने हेतु संबंधित कानूनों को लागू किया जाना अनिवार्य है। इन्टरार्क, करोलिया, माइक्रोमैक्स समेत सभी कंपनियों के पीड़ित मजदूरों को न्याय मिलना चाहिए। अन्यथा व्यापक स्तर पर आंदोलन किया जाएगा। उन्होंने चेतावनी दी गई कि यदि मजदूरों की उपरोक्त समस्याओं का समाधान न किया गया तो कलेक्ट्रेट रुद्रपुर में अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल प्रारंभ की जायेगी। जिसकी समस्त जिम्मेदारी शासन- प्रशासन की होगी। इस अवसर पर समाजसेवी सुब्रत कुमार विश्वास, किसान नेता बलजिन्दर सिंह मान ,सामाजिक कार्यकर्ता शिवदेव सिंह, श्रमिक नेता दिनेश तिवारी, मुकुल, दलजीत सिंह, कैलाश भट्ट, ठाकुर सिंह, वीरेंद्र कुमार, लक्ष्मण आदि शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!