जिला पंचायत राज अधिकारी का स्पष्टीकरण तलब किया

Spread the love

पंचायती राज विभाग में अवमुक्त धनराशि के सापेक्ष प्रगति रिपोर्ट शून्य
जयन्त प्रतिनिधि।
पौड़ी। मुख्य विकास अधिकारी आशीष भटगांई ने राज्य सेक्टर एवं केन्द्र पोषित की समीक्षा के दौरान पंचायती राज विभाग में अवमुक्त धनराशि के सापेक्ष प्रगति रिपोर्ट शून्य होने पर जिला पंचायत राज अधिकारी का स्पष्टीकरण तलब किया। जबकि बीस सूत्रीय कार्यक्रम के तहत जिला पूर्ति विभाग, पीएमजीएसवाई, वन विभाग की लक्ष्य के सापेक्ष डी श्रेणी पर होने के चलते संबंधित अधिकारी के स्पष्टीकरण जारी करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि 3 दिन के भीतर स्पष्टीकरण जिला अर्थ एवं संख्या अधिकारी को प्रेषित करेंगे।
मुख्य विकास अधिकारी आशीष भटगांई ने शनिवार को विकास भवन सभागार पौड़ी में जिला स्तरीय संबंधित अधिकारियों के साथ जिला योजना, राज्य सेक्टर, केन्द्र पोषित, बीस सूत्रीय कार्यक्रम, वाहय सहायतित एवं अन्य विकास कार्यों की समीक्षा बैठक की। उन्होंने सभी अधिकारियों को अवमुक्त धनराशि के शत-प्रतिशत खर्च करने हेतु अवश्यक दिशा निर्देश दिये। सीडीओ ने कहा कि निर्माण कार्य में गुणवत्ता के साथ तेजी लाना सुनिश्चित करें। आबंटित लक्ष्य को शीघ्र प्राप्त करें, ए श्रेणी में आने वाले विभाग को अपने कार्य प्रगति में तटस्थता बनाये रखने को कहा, ताकि श्रेणी यथावत बनी रहे। शेष बी, सी एवं डी श्रेणी में रहने वाले विभाग को तेजी के साथ समयान्तर्गत कार्य पूर्ण कर ए श्रेणी में आने के निर्देश। साथ ही संबंधित अधिकारियों को एक सप्ताह के भीतर अपने अधीनस्थ अधिकारी एवं कर्मचारी के साथ बैठक कर कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिये। उन्होंने समस्त संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि अवमुक्त धनराशि के सापेक्ष गुणवत्ता के साथ शीघ्र खर्च करना सुनिश्चित करें। साथ ही टास्क फोर्स समिति के पदाधिकारियों को नियमित क्षेत्र में भ्रमण कर कार्यों के जांच करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि जो भी निर्माण कार्य हो रहे हैं उसके सामने सूचना पठ लगाना सुनिश्चित करें। जिससे निर्माण कार्य का पता चल सके। उन्होंने संबंधित विभागों के अधिकारियों को कहा कि विभाग द्वारा जो भी कार्य किए जा रहे हैं उनको पोर्टल के माध्यम से जारी करें। इस अवसर पर जिला विकास अधिकारी वेद प्रकाश, अर्थ एवं संख्याधिकारी संजय शर्मा, मुख्य कृषि अधिकारी डीएम राणा, मुख्य शिक्षा अधिकारी मदन सिंह रावत, जिला पर्यटन विकास अधिकारी खुशाल सिंह नेगी, अधिशासी अभियंता जल निगम नंद किशोर, जिला समाज कल्याण अधिकारी सुनीता अरोड़ा, उप मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ. अशोक कुमार, ईई विधुत विभाग अभिनव रावत, उद्योग विभाग अधिकारी मृत्युजंय सिंह, जिला युवा कल्याण अधिकारी गणेश थपलियाल, अधिशासी अधिकारी आरडीब्लू हितेष पाल सिंह, उरेड़ा अधिकारी शिव सिंह मेहरा, ईई जल संस्थान सुनील बिष्ट, सीएओ देवेद्र सिंह आदि मौजूद थे।

कार्यों की प्रगति संतोष जनक न होने पर होगी कार्यवाही
पौड़ी। मुख्य विकास अधिकारी आशीष भटगांई ने पेयजल निगम, जल संस्थान के समीक्षा के दौरान विभाग के कार्य प्रगति पर नाराजगी जाहिर करते हुए सोमवार को समुचित कार्यों की प्रगति रिपोर्ट फोटो सहित प्रस्तुत करने को कहा है। कार्यों की प्रगति संतोष जनक न पाये जाने पर कार्यवाही अमल में लाने की बात कही। उन्होंने पौड़ी नगर के प्राकृतिक जल स्रोत में किये जाने वाले कार्यों के प्लानिंग फोटोग्राफ सहित प्रस्तुत करने के निर्देश दिये। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि जल जीवन मिशन के तहत किये जाने वाले कार्य को शीघ्र टेकअप करते हुए कार्यों में तेजी लाना सुनिश्चित करें।

जनपद स्तर पर खेल कैंप लगाने को कहा
पौड़ी। मुख्य विकास अधिकारी आशीष भटगांई ने खेल विभाग के अधिकारी को जनपद स्तर पर खेल कैम्प लगाने के निर्देश भी दिये। साथ ही उन्होंने उद्यान विभाग को पॉली हाउसों का लक्ष्य जल्द पूरा करने को कहा। इसके अलावा उन्होंने सिंचाई विभाग के अधिकारी को निर्देशित किया कि जो नहरें बन रही हैं और जो पूर्ण हो चुकी हैं उनकी फोटोग्राफ के साथ उपलब्ध कराने को कहा। आयुर्वेदिक, ऐलोपैथिक विभाग के भवन निर्माण की कार्यदायी संस्था को जल्द कार्य पूर्ण करने को कहा। जिला समाज कल्याण विभाग अधिकारी को निर्देशित किया कि दिव्यांगों के लिए गांव-गांव में कैम्प लगाने के साथ ही प्रचार-प्रसार करने को कहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!