पकड़ा गया पौड़ी गढ़वाल के दिनेश को निवाला बनाने वाला आदमखोर

Spread the love


जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार।
जनपद पौड़ी गढ़वाल के बीरोंखाल ब्लॉक के अंतर्गत ग्राम भैंसोड़ा में ग्रामीण को निवाला बनाने वाला गुलदार पिंजरे में कैद हो गया है। गुलदार के पकड़े जाने से ग्रामीणों ने राहत की सांस ली है।
ज्ञातव्य हो कि विगत 22 जून को ग्राम भैंसोड़ा निवासी 38 वर्षीय दिनेश चंद्र पुत्र मोहन लाल गांव से कुछ दूर खेतों में शौच के लिए गया था। इस दौरान गुलदार ने उस पर अचानक हमला कर दिया था। गुलदार दिनेश को घसीटते हुए करीब सौ मीटर दूर झाड़ियों में ले गया था। जब काफी देर तक वह घर नहीं आया था तो ग्रामीणों ने उनकी तलाश की। करीब डेढ़ घंटे बाद गांव वालों को झाड़ियों में दिनेश का अधखाया शव मिला। घटना के अगले दिन वन विभाग ने घटनास्थल के समीप पिंजरा लगा दिया था। गुलदार की गतिविधि पर नजर रखने के लिए कैमरे भी लगाये गये थे।
ग्राम प्रधान सुरेंद्र ढौंडियाल ने बताया कि पिछले दो-तीन दिन से गुलदार गांव के आसपास नजर आ रहा था। उन्होंने बताया कि आज सोमवार सुबह गुलदार की दहाड़ सुन जब ग्रामीण पिंजरे के करीब पहुंचे तो उन्हें वहां गुलदार कैद मिला। उन्होंने बताया कि घटना की सूचना गढ़वाल वन विभाग की थैलीसैंण रेंज में दे दी गई है। वन विभाग के पूर्वी अमेली रेंज थलीसैंण के वनक्षेत्राधिकारी अनिर्ल ंसह रावत ने बताया कि सोमवार को सुबह गस्ती दल के सदस्यों द्वारा सूचना दी गई कि ग्राम भैंसोड़ा माला साबली-5 में लगाए गए पिंजरे में गुलदार कैद हो गया है। तुरंत मौके के लिए टीम रवाना की गई और गुलदार को रेस्क्यू कर रेंज मुख्यालय लाया गया। गुलदार का स्वास्थ्य परीक्षण के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। टीम में वन क्षेत्राधिकारी पूर्वी अमेली रेंज थलीसैण अनिल सिंह रावत, वन दरोगा अरविंद रावत, वन दरोगा मोहन कुमार, वन बीट अधिकारी मदन बिष्ट आदि मौजूद थे। इस मौके पर सामाजिक कार्यकर्ता पातीराम ढौंडियाल, जगत सिंह नेगी सहित अन्य ग्रामीण मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!