सीएम ने गिनाई सरकार की उपलब्धियां

Spread the love

देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने साढ़े तीन साल का कार्यकाल पूरा होने पर सरकार की उपलब्धियां गिनाईं। सीएम ने बताया कि गैरसैंण को उत्तराखंड की ग्रीष्मकालीन राजधानी बनाया गया। इसकी विधिवत अधिसूचना भी जारी कर दी गई है। अब गैरसैंण में राजधानी के अनुरूप आवश्यक सुविधाओं के विकास की कार्ययोजना बनाई जा रही है। सीएम ने कहा, भविष्य की आवश्यकताओं, श्रद्धालुओं की सुविधाओं और इंफ्रास्ट्रक्चर के विकास की दृष्टि से चारधाम देवस्थानम बोर्ड का गठन किया गया है। इसमें तीर्थ पुरोहित और पंड समाज के लोगों के हक हकूक और हितों को सुरक्षित रखा गया है। अटल आयुष्मान योजना में राज्य के सभी परिवारों को पांच लाख रुपये वार्षिक की निशुल्क चिकित्सा सुविधा देने वाला उत्तराखंड, देश का पहला राज्य है। अभी दो लाख पांच हजार मरीजों को योजना में निश्?शुल्क उपचार मिला है। जिस पर 180 करोड़ रुपये से अधिक खर्च किए जा चुके हैं। नेशनल पोर्टेबिलिटी की सुविधा देते हुए देशभर के 22 हजार से अधिक अस्पताल इसमें सूचीबद्ध हैं।
डबल इंजन का असर साफ-साफ देखा जा सकता है। केंद्र सरकार ने लगभग एक लाख करोड़ रुपए की विभिन्न परियोजनाएं प्रदेश के लिए स्वीकृत की हैं। बहुत सी योजनाओं पर तेजी से काम भी चल रहा है। इनमें ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल परियोजना, चारधाम सड़क परियोजना, केदारनाथ धाम पुनर्निर्माण, भारतमाला परियोजना, जमरानी बहुद्देशीय परियोजना, नमामि गंगे, भारत नेट फेज-2 परियोजना, एयर कनेक्टीवीटी पर किया जा रहा काम मुख्य है। उत्तराखंड पहला राज्य है, जहां उड़ान योजना में हेली सेवा शुरू की गई है। श्री बदरीनाथ धाम का भी मास्टर प्लान बनाया गया है।
पिछले लगभग साढ़े तीन वर्षों में उत्तराखण्ड ने विभिन्न क्षेत्रों में बेहतरीन प्रदर्शन किया है। नीति आयोग के जिरए जारी की गई %भारत नवाचार सूचकांक 2019% में पूर्वोत्तर और पहाड़ी राज्यों की श्रेणी में उत्तराखंड सर्वश्रेष्ठ तीन राज्यों में शामिल है। राज्य को 66 वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार में बेस्ट फिल्म
फ्रेंडली स्टेट घोषित किया गया।
स्वच्छ भारत मिशन-ग्रामीण में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए उत्तराखंड को सात पुरस्कार मिले हैं। %बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ% अभियान में ऊधमसिंह नगर जिले को देश के सर्वश्रेष्ठ 10 जिलों में चुना गया। उत्तराखंड को खाद्यान्न उत्पादन में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए दूसरी बार कृषि कर्मण प्रशंसा पुरस्कार दिया गया। जैविक इंडिया अवार्ड 2018 के साथ ही मनरेगा में देशभर में सर्वाधिक 16 राष्ट्रीय पुरस्कार राज्य को मिले। मातृत्व मृत्यु दर में सर्वाधिक कमी के लिए उत्तराखंड को भारत सरकार से पुरस्कृत भी किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!