सीएम ने राजकीय महाविद्यालय सतपुली का शिलान्यास कर खैरासैंण की जनता को दी सौगात

Spread the love

उत्तराखंडवासियों के रग-रग में बसी है देशभक्ति, 1962 के बाद होगा भूमि का बंदोबस्त, महिलाओं को मिलेगा पैतृक भूमि का अधिकार
जयन्त प्रतिनिधि।
सतपुली। प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने राजकीय महाविद्यालय सतपुली का शिलान्यास किया। उन्होंने कहा कि महाविद्यालय को बनाने में किसी भी तरह की
अड़चन नहीं आने दी जाएगी। खैरासैंण में भूमि उपलब्ध कराने पर उन्होंने लोगों का आभार जताया।
पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत खैरासैंण पहुंचे। जहां मुख्यमंत्री ने राजकीय महाविद्यालय सतपुली का शिलान्यास किया।
मुख्यमंत्री ने कहा कि महाविद्यालय के लिए 306.40 लाख स्वीकृत किये गये हैं। महाविद्यालय को बनाने में धन की कमी नहीं आने दी जाएगी। महाविद्यालय का
निर्माण जल्द से जल्द कराकर पठन-पाठन शुरू करा दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि महाविद्यालय का निर्माण कराने के लिए पिछले काफी समय से भूमि की तलाश
की जा रही थी। मुख्यमंत्री ने कहा कि इससे पहले महाविद्यालय के निर्माण के लिए सतपुली के पास भूमि उपलब्ध कराई गई थी, जोकि यहां के छात्रों के लिहाज से
काफी दूर थी। साथ ही पूर्व की चयनित भूमि महाविद्यालय के निर्माण के लिए पर्याप्त नहीं थी। उन्होंने कहा कि यहां पर महाविद्यालय बनने से छात्रों को काफी
सुविधा मिलेगी। साथ ही उनकी कोशिश होगी कि छात्रों के लिए उचित शिक्षा व्यवस्था मुहैया कराई जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि देश भक्ति उत्तराखंड को सिखाने की
जरूरत नहीं है, क्योंकि उत्तराखंड की रग-रग में देश भक्ति बसी है। उन्होंने कहा कि 1961 बाद उत्तराखंड में भूमि बंदोबस्त नहीं हुआ है, बन्दोबस्त करवाकर महिलाओं
को भी पैतृक भूमि का अधिकार दिया जायेगा। 1962 के बाद सरकार द्वारा भूमि बन्दोबस्ती शुरू की जा रही हैं, जिसमें महिलाओं को भूमि का अधिकार के तहत
सामान अधिकार मिलेगा। श्रीमती सुनीता देवी ग्राम प्रधान खैरासैंण की अध्यक्षता में कार्यक्रम का संचालन जगमोहन सिंह रावत पूर्व जिला महामंत्री ने किया।
कार्यक्रम में उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. धन सिंह रावत, उच्च शिक्षा निदेशक कुमकुम रौतेला, लैंसडौन विधायक दिलीप रावत, पौड़ी विधायक मुकेश कोली, भाजपा
जिलाध्यक्ष सम्पत सिंह रावत, ओएसडी गोपाल सिंह रावत, श्रीमती शान्ति देवी जिला पंचायत अध्यक्ष, श्रीमती अंजना वर्मा अध्यक्षा नगर पंचायत सतपुली, नीरज
पांथरी ब्लोंक प्रमुक एकेश्वर, गौरव रावत, जिला महामंत्री जंगबहादुर रावत, महाविद्यालय प्राचार्य डॉ. रेनू नेगी, डॉ. अवधेश उपाध्याय, पंडित राजेन्द्र अण्थ्वाल उपाध्यक्ष
गौ सेवा आयोग, राजगौरव नौटियाल, बृजमोहन रावत मंडल अध्यक्ष, बीरेंद्र रावत, राजेन्द्र रावत, जिलाधिकारी धीराज सिह गरब्र्याल, एसएसपी पी. रेणुका देवी, अपर
जिलाधिकारी डा. एस के बरनवाल, उपजिलाधिकारी एसएस राणा, अपर्णा ढौडियाल, एपीडी सुनील कुमार, जिला पर्यटन अधिकारी खुशाल सिह नेगी, सीओ वंदना वर्मा,
अनिल जोशी उपस्थित थे। आदि उपस्थित रहे।

बॉक्स समाचार
एक रूपये में मिलेगा पानी का कनेक्शन
मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने घोषणा करते हुए कहा कि गुजरखंड पेयजल योजना को तुरंत शुरू किया जाएगा। खैरासण में बारात घर का निर्माण किया जायेगा
लोदी रिखोला मार्ग की स्वीकृति के साथ ही पर्यटन को बदावा देने के लिए कार्य किया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री सौर स्वरोजगार योजना के तहत
छोटे-छोटे सोलर प्रोजक्ट लगाये जायेंगे, जिससे 10 हजार लोगों को रोजगार मिलेगा। 25-25 किलोवाट के छोटे-छोटे प्रोजक्ट पर कार्य किया जायेगा। इस योजना के
तहत 25 प्रतिशत तक की सब्सिडी दी जायेगी। इन प्रोजक्ट से उत्पादित बिजली सरकार खरीदेगी। पिरूल की पत्तियों से बिजली बनाने का कार्य शुरू किया गया।
मुख्यमंत्री ने कहा कि लवाड़ गांव में 64 लाख रुपये के कार्यों की स्वीकृति दी गई है। जल जीवन मिशन के तहत गांवों में पेयजल योजना का कनेक्शन 2350 रुपये
में दिया जाना था। राज्य सरकार ने निर्णय लिया है कि गांवों में मात्र एक रुपये में पानी का कनेक्शन देंगे। मानकों के अनुरूप स्वच्छ जल दिया जायेगा।

बॉक्स समाचार
इन योजनाओं का किया शिलान्यास
कार्यक्रम में मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र्र ंसह रावत ने 7 करोड़ 27 लाख रुपये की योजनाओं का शिलान्यास किया। जिसमें खैरासैंण में डिग्री कॉलेज भवन निर्माण के लिए 3
करोड़ 40 लाख रुपये, कम्यूनिटी टूरिज्म को प्रोत्साहन देने हेतु खैरासैंण (सतपुली) में पर्यटक परिसर के निर्माण हेतु 1 करोड़ 84 लाख रुपये, खैरासैंण-बयाली मोटर
मार्ग पर लोडिंग स्टील गर्डर सेतु के निर्माण हेतु 1 करोड़ 74 लाख रुपये एवं खैरासैंण-बयाली मोटर मार्ग के डामरीकरण हेतु 63 लाख रुपये के कार्य शामिल हैं।

बॉक्स समाचार
सरकार के गांव के विकास के लिए चला रही योजना
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार गांवों के विकास के लिए कई तरह की योजनाएं चला रही है। हाल ही में मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना लागू की गई है, जिसके
तहत 150 तरह के काम कवर्ड है तथा 25 प्रतिशत की सब्सिडी है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार अपने किसान भाइयों को 1 लाख का ऋण पहले वर्ष में 2 प्रतिशत
ब्याज पर दिया, फिर जब किसानों द्वारा अच्छा काम किया गया तो ब्याज को जीरो प्रतिशत किया गया। वहीं महिला समूहों को 5 लाख तक का ऋण बिना ब्याज
के दिया। अभी-अभी किसानों के लिए 3 लाख का ऋण बिना ब्याज के शुरू किया है, जिससे वे अपना स्वरोजगार स्थापित कर सकते है।

बॉक्स समाचार
खैरासैंण बनेगा पर्यटन हब
मुख्यमंत्री ने सतपुली के लिए मोटर पर्किग की भी घोषणा की। वहीं अद्र्धसैनिक बल कोट्द्वार की कैन्टीन जो किराये पर चल रही है उसके लिए जल्द भूमि का
चयन कर भूमि उपलब्ध करवाने का आश्वासन दिया। पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए 13 जिले 13 डेटिनेशन में शामिल होगें। मुख्यमंत्री ने कहा कि खैरासैण झील की
डीपीआर तैयार हो रही है जिसके बाद झील का निर्माण कर यहां पर्यटन हब बनाया जायेगा। नगर पंचायत सतपुली में 3.26 करोड़ की लागत से कॉम्प्लेक्स का
निर्माण किया जायेगा। लावड़ में कौशल विकास संस्थान जल्द खोला जाएगा, खैरासैण में बारातघर का निर्माण, सतपुली इंटर कालेज ओर राजकीय कन्या विद्यालय
का एकीकरण किया जायेगा, ताकि सरकारी धन उपयोग कर छात्रों को अच्छी शिक्षा दी जा सके।

बॉक्स समाचार
दस माह में बनेगा भवन
इस अवसर पर उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने ग्रामीणों का अभार व्यक्त करते हुए कहा कि एक महीने में रजिस्ट्री और दस महीने में महाविद्यालय का भवन
बनकर तैयार हो जायेगा। 90 प्रतिशत प्रोफेसरों की नियुक्ति हो चुकी है। एक माह के अन्दर सभी महाविद्यालय में कनेक्टिविटी दी जायेगी। जिससे 35 लाख किताबों
को विद्यार्थी ऑनलाइन पढ़ सकेगें।

बॉक्स समाचार
बौंसाल में भी चलेगा शिक्षा संस्थान
सतपुली महाविद्यालय का ग्राम बौंसाल में किये गए निर्माण कार्य को लेकर ग्राम प्रधान बौसाल विकास रावत, पूर्व प्रधान गोर्ली रविन्द्र सिंह ने उच्च शिक्षा मंत्री डॉ.
धन सिंह रावत से वार्ता की। जिस पर डॉ. रावत ने कहा कि उन्हें निराश होने की आवश्यकता नहीं है, वहां पर भी शिक्षा संस्थान चलाया जायेगा।

बॉक्स समाचार
स्थानीय विधायक कार्यक्रम से नदारद
खैरासैण में राजकीय महाविद्यालय के शिलान्यास कार्यक्रम में चौबट्टाखाल विधायक व पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज नदारद दिखे। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र
रावत सहित उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. धन सिंह रावत, लैंसडौन विधायक दलीप रावत, पौडी विधायक मुकेश कोली उपस्थित रहे।
कार्यक्रम चौबट्टाखाल विधानसभा में था, लेकिन कार्यक्रम से चौबट्टाखाल विधायक गायब दिखे, जबकि लैंसडौन व पौड़ी विधायक कार्यक्रम में उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!