डाक विभाग कर्मी ने दी एमडीडीए कांप्लेक्स की तीसरी मंजिल से कूदकर जान

Spread the love

देहरादून। देहरादून में डाक विभाग में तैनात कर्मचारी ने घंटाघर स्थित एमडीडीए कांप्लेक्स की तीसरी मंजिल से कूदकर जान दे दी। शहर कोतवाली पुलिस ने शव को मोर्चरी में रखवाया है। पुलिस की प्रारंभिक जांच में कर्मचारी के ट्रांसफर को लेकर डिप्रेशन में होने की बात सामने आई है। एसपी सिटी सरिता डोबाल ने बताया कि हरियाणा निवासी सोमबीर (30) पुत्र स्वर्गीय राजकुमार दून में घंटाघर स्थित जीपीओ के समीप डीएपी शाखा में बतौर एकाउंटेट तैनात थे। सोमबीर चूक्खुवाला में परिजनों के साथ रहते थे। शुक्रवार सुबह 11 बजे के करीब सोमबीर ने धारा पुलिस चौकी के सामने स्थित एमडीडीए कांप्लेक्स की तीसरी मंजिल से छलांग लगा दी। यह देखकर कांप्लेक्स में भीड़ जमा हो गई। सूचना पर शहर कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची और 108 एंबुलेंस की मदद से घायल को दून अस्पताल ले जाया गया, जहां से डॉक्टरों ने हालत गंभीर होने पर सोमबीर को श्रीमहंत इंदिरेश अस्पताल रेफर किया। पुलिस ने सोमबीर के पास मिले मोबाइल फोन से परिजनों से संपर्क किया, जिस पर परिजन अस्पताल पहुंचे। परिजनों ने पुलिस को बताया कि सोमबीर पिछले कुछ समय से डिप्रेशन में था। संभवत: डिप्रेशन के कारण उसके द्वारा कांप्लेक्स से छलांग लगाई हो। बताया कि घटना के संबंध में जांच की जा रही है। दोपहर में उपचार के दौरान सोमबीर की मौत हो गई। इस मामले में डाक विभाग के अफसर कुछ भी कहने से बच रहे हैं।
लखनऊ से दून ट्रांसफर हुई थी ब्रांच : पुलिस के अनुसार सोमबीर मुख्य डाकघर के पीछे स्थित डीएपी ब्रांच में अकाउंट सेक्शन में तैनात थे। यह ब्रांच कुछ समय पहले लखनऊ से स्थानांतरित होकर देहरादून आई है।
18 मार्च को दिल्ली हुआ था तबादला: शुरुआती जांच में यह बात सामने आई थी कि सोमबीर अपने ट्रांसफर को लेकर परेशान थे। चौकी प्रभारी धारा शिशुपाल राणा ने बताया कि जांच में पता चला कि 18 मार्च को सोमबीर का तबादला दिल्ली हुआ था। जिस कार्यालय में सोमबीर का तबादला हुआ, वह संस्थान उनके घर से करीब एक घंटे की दूरी पर था। अब सवाल यह उठ रहा कि आखिर सोमबीर किसी वजह से परेशान थे, जिसके चलते उन्होंने आत्महत्या जैसा कदम उठाया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!