दिल्ली में कोरोना के बढ़ते ही सरकार ने उठाया बड़ा कदम, नहीं खुलेंगे आठवीं तक के स्कूल

Spread the love

नई दिल्ली,एजेंसी। राजधानी में कोरोना महामारी के बढ़ते मामलों के बाद दिल्ली सरकार के शिक्षा निदेशालय ने सभी स्कूलों को आठवीं तक के छात्रों को स्कूल न बुलाने के निर्देश दिए हैं। निदेशालय ने सभी सरकारी, सहायता प्राप्त और निजी स्कूलों के प्रधानाचार्यों को परिपत्र जारी कर कहा कि अकादमिक सत्र 2021-22 में कक्षा आठवीं तक के छात्रों को अगले आदेश स्कूल न बुलाएं।
निदेशालय के वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक इस अकादमिक सत्र से सभी आठवीं तक के छात्रों की सभी शैक्षणिक गतिविधियां आनलाइन माध्यम से ही संचालित होंगी। वहीं, निदेशालय ने स्कूलों को केवल नौवीं से 12वीं तक के छात्रों को स्कूल बुलाने की मंजूरी दी है।
स्कूलों को छात्रों को बुलाने के लिए कोरोना महामारी से बचाव के सभी नियमों का पालन करना होगा। वहीं, नौवीं से 12वीं तक के छात्र प्रायोगिक परीक्षाओं, मिड टर्म परीक्षाओं, वार्षिक परीक्षाओं, बोर्ड परीक्षाओं, प्रोजेक्ट कार्य और आंतरिक मूल्यांकन से संबंधित कार्यों के लिए अभिभावकों की मंजूरी के बाद ही स्कूूल आ सकते हैं। उल्लेखनीय है कि निदेशालय ने सभी स्कूलों को 1 अप्रैल से अकादमिक सत्र 2021-22 के लिए कक्षाएं शुरू करने के निर्देश दिए थे। अब ये कक्षाएं अगले आदेश तक आनलाइन माध्यम से ही संचालित होंगी।
इधर, भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आइआइटी) दिल्ली में कोरोना के टीकाकरण की शुरुआत हुई। आइआइटी निदेशक प्रो़ रामगोपाल राव ने कहा कि पहले दिन आइआइटी के 110 पदाधिकारियों को टीका लगा। टीकाकरण दोपहर बारह बजे शुरू हुआ। आइआइटी पदाधिकारियों ने बताया कि परिसर में ही दक्षिणी दिल्ली जिलाधिकारी कार्यालय की तरफ से काउंटर बनाया गया है, जहां टीकाकरण हो रहा है। यहां आइआइटी कर्मचारियों के साथ ही कोविन वेब पोर्टल के जरिये पंजीकरण कराने वाले लोगों को भी टीका लगाया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!