डीएम ने सुनी तहसील दिवस जन समस्याएं

Spread the love
Backup_of_Backup_of_add

चमोली। कर्णप्रयाग ब्लाक सभागार में मंगलवार को आयोजित तहसील दिवस में जिलाधिकारी हिमांशु खुराना ने फरियादियों की समस्याएं सुनी। तहसील दिवस में सड़क, शिक्षा, पेयजल, विद्युत, भूमि का मुआवजा, क्षतिग्रस्त रास्ते, पेंशन आदि से जुड़ी 82 समस्याएंध्शिकायतें दर्ज हुई। जिसमें से अधिकांश शिकायतों का जिलाधिकारी ने मौके पर निस्तारण किया। जिलाधिकारी ने सभी विभागीय अधिकारियों को जन शिकायतों को गम्भीरता से लेते हुए प्राथमिकता पर उनका निस्तारण करने के निर्देश दिए। कहा कि शिकायतों के निराकरण में किसी प्रकार की लापरवाही न की जाए। कहा जिन कार्यों के लिए बजट की आवश्यकता है उसका प्रस्ताव शीघ्र तैयार करें। तहसील दिवस में सहायक निबंधक सहकारिता के मौजूद न रहने पर जिलाधिकारी ने अग्रिम आदेशो तक संबधित अधिकारी के वेतन आहरण पर रोक लगाने के निर्देश भी दिए।
तहसील दिवस में सडक व पेयजल से जुड़ी समस्याएं प्रमुखता से रखी गई। कनखुल-नैनीसैंण मोटर मार्ग के किलोमीटर-3 में सडक क्षत्रिग्रस्त होने और भारी वाहनों की आवाजाही न होने की शिकायत पर जिलाधिकारी ने लोनिवि को शीघ्र मोटर मार्ग को दुरुस्त करने के निर्देश दिए। चटवापीपल-सिरण एंड मोटर मार्ग पर स्कवर व नाली न होने से जगह जगह सड़क क्षतिग्रस्त होने तथा सडक का मलवा खेतों में आने की शिकायत पर एसडीएम को जांच करने को कहा। निर्माणाधीन लंगासू-मैखुरा मोटर मार्ग का मलवा खेतों मे डाले जाने, फलदार पेडों को नुकसान और मजदूरों के लिए शौचालय की व्यवस्था न होने व खुले में शौच से गांव में गंद्गी की शिकायत पर जिलाधिकारी ने अधिशासी अभियंता को मलवा डम्पिंग जोन मे डालने, खेतों से मलवा हटाने तथा ठेकेदार को मजदूरों के लिए शौचालय निर्माण कराने के सख्त निर्देश दिए।चटवापीपल-झिरकोटी मोटर मार्ग पर काश्तकारों की भूमि का मुआवजा न मिलने की शिकायत पर अधिशासी अभियंता ने बताया कि प्रभावित परिवारों द्वारा पूर्व में मुआवजा नही लिया गया है, जबकि मुआवजा धनराशि उपलब्ध है। इस पर जिलाधिकारी ने पटवारी के साथ शिविर लगाकर तत्काल मुआवजा वितरण कराने को कहा। उत्तरों-चमोली-मैखुरा मोटर मार्ग के किलोमीटर-6 में प्राथमिक विद्यालय और आवासीय मकानों को बने खतरे की शिकायत पर अधिशासी अभियंता को तत्काल सुरक्षात्मक कार्य कराने के निर्देश दिए। ग्राम पंचायत बरतोली में पीएमजीएसवाई की सडक कटिंग से पेयजल लाईन व प्रातिक जल स्रोत क्षत्रिग्रस्त होने की शिकायत पर जिलाधिकारी ने जल संस्थान व पीएमजीएसवाई के अधिकारियों को एक सप्ताह के भीतर संयुक्त निरीक्षण करते हुए समस्या का समाधान करने को कहा। दमदमा गांव में पीएमजीएसवाई की सड़क कटिंग का मलवा खेतों में आने की शिकायत पर जिलाधिकारी ने एसडीएम को संयुक्त निरीक्षण कराने के निर्देश दिए।
कर्णप्रयाग मुख्य बाजार में सड़क पर गड्ढे और बरसात में जलभराव की समस्या पर लोनिवि और एनएच दोनों विभागों को तत्काल पैच वर्क कराने को कहा। कर्णप्रयाग में कब्रिस्तान की भूमि पर अतिक्रमण की शिकायत को लेकर एसडीएम को जांच के निर्देश दिए। वहीं कर्णप्रयाग सब्जी मंडी के पास भूस्खलन से आवासीय मकानो को बने खतरे की समस्या पर आईआईटी रुडकी से शीघ्र जांच कराने के निर्देश दिए।
तहसील दिवस में राजेश्वरी देवी व बिन्द्रा देवी द्वारा वृद्घावस्था पेंशन न मिलने की शिकायत पर समाज कल्याण अधिकारी को शीघ्र समस्या का समाधान करने को कहा गया। वहीं आदिबद्री में चकोरी देवी द्वारा विद्युत व पेयजल कनेक्शन दिलाने की मांग पर संबधित अधिकारियों समस्या का समाधान करने को कहा।
गांव गांव भ्रमण करने वाले फेरीवालों का सत्यापन न होने की समस्या पर जिलाधिकारी ने तहसीलदार के माध्यम से सभी फेरीवालों का सत्यापन कराने के निर्देश दिए। क्षेत्र में बंदरों के आतंक की समस्या पर डीएफओ को समस्या का उचित समाधान करने को कहा।
तहसील दिवस में अपर जिलाधिकारी डा़अभिषेक त्रिपाठी, डीएफओ अलकनन्दा सर्वेश कुमार दुबे, प्रभारी मुख्य विकास अधिकारी आनंद सिंह, एसडीएम संतोष कुमार पांडेय, सीएमओ डा़राजीव शर्मा, डीडीओ सुमन राणा, समस्त जिला स्तरीय अधिकारी, ब्लाक प्रमुख चन्द्रेश्वरी देवी, नगर पालिका अध्यक्ष दमयंती रतूड़ी, ज्येष्ठ प्रमुख प्रदीप चौहान सहित स्थानीय जनप्रतिनिधि, ग्राम प्रधान एव शिकायतकर्ता मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!