डीएम ने ली प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना एवं दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना की समीक्षा बैठक

Spread the love

रुद्रप्रयाग। जिलाधिकारी मनुज गोयल की अध्यक्षता में प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना एवं दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना की समीक्षा बैठक आयोजित की गई। बैठक में कौशल विकास केंद्रों की वर्तमान स्थिति की गहन समीक्षा की गई। कलक्ट्रेट सभागार में आयोजित बैठक में जिलाधिकारी ने दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना की निम्न प्रगति पर नारजगी व्यक्त करते हुए योजना में प्रगति लाने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी द्वारा स्पष्ट निर्देश दिए गए हैं कि दोनों योजनाओं में आवंटित लक्ष्यों के सापेक्ष प्रशिक्षण प्रदान कर जनपद के युवाओं को अधिक से अधिक लाभान्वित किया जाए। दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना के संबंध में सहायक परियोजना निदेशक रमेश चंद्र द्वारा बताया गया कि आवंटित सहयोगी संस्थाओं के संचालकों से प्रशिक्षण के लिए निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं जिनका विधिवत संचालन दिसंबर माह के अंत तक हो सकेगा। समीक्षा बैठक में कौशल विकास के नोडल अधिकारी जिला सेवायोजन अधिकारी कपिल पांडे द्वारा जानकारी दी गई कि जनपद में उत्तराखंड कौशल विकास मिशन का कोई भी केंद्र वर्तमान तक संचालित नहीं है। वर्तमान में देहरादून की एक संस्था, एसेट इंफोटेक से अनुबंध किया जा चुका है जिसके द्वारा निकट भविष्य में जनपद मुख्यालय में कौशल केंद्र स्थापित किया जाएगा जिसके माध्यम से यहां के युवाओं को विभिन्न रोजगार परक प्रशिक्षण का लाभ मिल सकेगा। जनपद में पूर्व से राष्ट्रीय कौशल विकास मिशन के दो केंद्र संचालित है किंतु वर्तमान में महामारी के कारण बंद चल रहे थे। दोनों केंद्रों के खोलने की कार्यवाही की जा रही है। दिसंबर माह के अंत तक दोनों केंद्रों में संचालित पाठ्यक्रम संचालित हो सकेंगे। इस मौके पर जिला सेवायोजन अधिकारी कपिल पांडे सहायक परियोजना निदेशक ग्रामीण विकास रमेश चंद्रा, संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम की जनपद की संयोजक सुश्री दीपिका चंद्रा, महात्मा गांधी नेशनल फेलोशिप कार्यक्रम में कार्यरत धीरज राठौर, ग्राम्य विकास की ओर से भावना पंवार एवं सेवायोजन कार्यालय के अनुदेशक किशन रावत मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!