दुर्घटना में घायल व्यक्ति की जान बचाना सबसे पुनीत कार्य: डीएम

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
चमोली। जिला प्रशासन चमोली ने सड़क दुर्घटनाओं में घायल व्यक्तियों को मदद पहुंचाने वाले नागरिकों को सम्मानित करने की एक अभिनव पहल शुरू की है। सोमवार को राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा माह के शुभारंभ पर जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया की अध्यक्षता में क्लेक्ट्रेट सभागार में आयोजित कार्यक्रम में सड़क दुर्घटनाओं में सराहनीय कार्य करने वाले नागरिकों को सम्मानित किया गया। जिलाधिकारी ने कहा किसी दुर्घटना में घायल व्यक्ति की जान बचाना सबसे पुनीत कार्य है। पिछले वर्ष सड़क दुर्घटनाओं में कुछ नागरिकों ने मानवता का परिचय देते हुए लोगों की जान बचाने में अपना अमूल्य योगदान दिया है। जिला प्रशासन ऐसे लोगों का सम्मान करता है।
जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया की पहल पर राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा अभियान के पहले दिन सड़क दुर्घटनाओं के दौरान घायलों की मदद करने वाले नागरिकों को प्रशस्ति पत्र, प्रतीक चिन्ह एवं पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया। जिलाधिकारी ने कहा कि ये नागरिक आगे भी ब्रांड एम्बेसडर के रूप में कार्य करेंगे और प्रेरणास्रोत बनकर अन्य लोगों को भी ऐसे पुनीत कार्यो के लिए प्रेरित करेंगे। जिलाधिकारी ने कहा कि चमोली जनपद में हर साल लाखों की संख्या में टूरिस्ट पहुंचते है और आपदा की दृष्टि से भी जनपद संवेदनशील है। ऐसे में किसी भी दुर्घटना में आम नागरिक का सहयोग सबसे महत्वपूर्ण है। जिलाधिकारी ने बताया कि सड़क सुरक्षा-जीवन रक्षा के लिए 18 जनवरी से 17 फरवरी एक माह तक सड़क सुरक्षा अभियान चलाया जाएगा। इस अभियान के दौरान सड़क दुर्घटनाओं में कमी लाने हेतु आज जनमानस को यातायात नियमों के प्रति अधिकाधिक जागरूक किया जाएगा। इस दौरान जिलाधिकारी ने सड़क दुर्घटनाओं को कम करने के लिए आम नागरिकों से भी अपने सुझाव साझा करने की बात कही। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक यशवंत सिंह चौहान ने कहा कि दुर्घटना में लोगों की मदद करने वाले व्यक्ति को पुलिस कभी भी किसी तरह से परेशान नहीं करती है और ना ही करेगी। बल्कि दुर्घटना में घायल व्यक्ति की मदद करने पर पुलिस ऐसे लोगों को गुड सेमिरिटन के तौर पर सम्मानित भी करती है। उन्होंने कहा कि दुर्घटना के बाद घायल व्यक्ति के पास पहला आधा घंटा गोल्डन आवर होता है और इस दौरान घायल व्यक्ति को तुंरत उपचार मिले तो उसकी जान बचने की ज्यादा उम्मीद रहती है। इसलिए जब भी आपके आसपास कोई दुर्घटना होती दिखे तो बिना किसी डर के तुंरत घायलों की मदद करें और उन्हें शीघ्र अस्पताल पहुंचाए।

सड़क दुर्घटनाओं में सराहनीय कार्य करने वाले नागरिक सम्मानित
चमोली। मुख्य विकास अधिकारी हंसादत्त पांडे ने कहा कि जिन लोगों ने पिछली दुर्घटनाओं में घायलों को रेस्क्यू करने में मदद पहुंचायी है निश्चित ही वो सब लोग प्रेरणा के स्रोत है। एक अनजान व्यक्ति को भी मदद करना अपने आप में एक पुण्य कार्य है जिसमें हम सभी को अपना योगदान करना चाहिए। जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया, पुलिस अधीक्षक यशवंत सिंह चैहान एवं सीडीओ हंसादत्त पांडे ने सड़क दुर्घटनाओं में सराहनीय कार्य करने वाले नागरिकों को सम्मानित किया। एआरटीओ कार्यालय में कार्यरत पीआरडी जवान दौलत सिंह को एक दुर्घटना में घायल बस चालक तथा बस के घायल यात्रियों को निकालने में मदद करने पर सम्मानित किया गया। वहीं देवाल ब्लॉक के बलाण में हुई मैक्स दुर्घटना में मृतकों एवं घायलों को निकालने में सराहनीय कार्य करने पर देवाल निवासी देवसिंह तथा राजेन्द्र सिंह को सम्मानित किया गया। सैंजी गांव के निकट एक मैक्स दुर्घटना में गहरी खाई से चार घायल को निकालने एवं उन्हें अस्पताल पहुंचाने जैसे पुनीत कार्य करने पर सैंजी निवासी प्रताप सिंह बिष्ट तथा अवतार सिंह को सम्मानित किया गया। बद्रीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग पर टैय्या पुल के समीप इनोवा कार दुर्घटना में एक घायल व्यक्ति को खाई से सुरक्षित निकालने व उसकी जान बचने में मदद करने पर 6 नेपाली मजदूरों को भी सम्मानित किया गया। जिसमें करन सिंह, धन बहादुर, हरीश बहादुर, जय बहादुर, सूरज बहादुर तथा गुरखा बहादुर शामिल है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!