मलबा आने से बदरीनाथ मार्ग लामबगड़ में बंद

Spread the love

चमोली। बदरीनाथ हाईवे रविवार को लामबगड़ में सुचारु होने के कुछ ही देर बाद मलबा आने से फिर बंद हो गया है। जबकि एनएच ने पागलनाला, छिनका और कंचनगंगा में हाईवे सुबह नौ बजे वाहनों की आवाजाही के लिए खोल दिया था। उधर टिहरी में बारिश से चलते आठ ग्रामीण मोटर मार्ग बाधित हैं। वहीं ऋषिकेश-बदरीनाथ हाईवे भी तोताघाटी के पास लगातार बाधित हो रहा है। शनिवार रात को हुई भारी बारिश के चलते करीब दो बजे रात पागलनाला, लामबगड़ और कंचन गंगा में भारी मात्रा में मलबा और बोल्डर हाईवे पर आ गए। जिससे व रविवार को सुबह से ही वाहनों की आवाजाही ठप पड़ी रही। एनएच की जेसीबी मशीनों से नौ बजे तक वाहनों की आवाजाही शुरू हो गई, लेकिन दोपहर ग्यारह बजे छिनका में हाईवे पर बोल्डर आने से यातायात रुक गया। यहा अपराह्नन तीन बजे हाईवे को सुचारु किया जा सका। लेकिन साढ़े तीन बजे फिर लामबगड़ में मलबा आने से हाईवे बंद हो गया।
कर्णप्रयाग में जयकंडी-मैखुरा निर्माणाधीन मोटर मार्ग पर बीते एक साल से कटिंग के दौरान जमा मलबे से खतरे की जद में आए आवासीय भवन के मुआवजा विवाद का समाधान होने के बाद जयकंडी-मैखुरा मोटर मार्ग पर गिरे मलबे को लोनिवि जेसीबी द्वारा हटाने के बाद आवाजाही शुरू कराई। ग्राम प्रधान हेमंती देवी, देवी प्रसाद ने बताया कि जयकंडी-मैखुरा ग्रामीण मोटर मार्ग पर बीते एक वर्ष से किमी 13 में पड़ा मलबा लोनिवि के लिए सिरदर्द बना हुआ था शनिवार रात्रि विभाग ने सड़क पर जेसीबी मशीन से काम कर मलबा हटाया। क्षेपंस अंजना देवी ने कहा कि भवनस्वामी नरेन्द्र बरमोला के आवासीय भवन को होने वाले नुकसान बाबत लोनिवि से वार्ता कर प्रस्ताव तैयार कर स्वीकृति को भेजा गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!