मनरेगा कर्मियों ने की अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू

Spread the love

रुद्रप्रयाग। हिमांचल प्रदेश की तर्ज पर ग्रेड पे देने समेत आठ सूत्रीय मांगों को लेकर जिले के मनरेगा कर्मचारी संगठन ने अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू कर दी है। कर्मचारियों का कहना है कि जब तक उनकी मांगों पर उचित कार्रवाई नहीं होगी, तब तक उनका आंदोलन जारी रहेगा। सोमवार को मनरेगा कर्मचारी संगठन के सदस्य जिले के अगस्त्यमुनि, जखोली एवं ऊखीमठ तीनों ब्लाकों के सम्मुख एकत्रित हुए, जिसके बाद कर्मचारियों ने ग्रेड पे देने की मांग को लेकर सरकार के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन कर नारेबाजी की। इस अवसर पर वक्ताओं ने नियमितिकरण की मांग पूरी न होने पर सरकार पर उपेक्षात्मक रवैया अपनाने का आरोप लगाया है। कहा कि मनरेगा से जुडे सभी कार्मिकों को ग्राम्य व पंचायती राज विभाग में समायोजित किया जाए। जिससे उनका भविष्य सुरक्षित हो सके। मनरेगा कर्मचारियों को हिमाचल प्रदेश की तर्ज पर ग्रेड पे दिया जाए। ताकि कार्मिक अपने परिवार का भरण पोषण सही तरीके से कर सके। इसके अलावा कर्मचारियों को बीमा व स्वास्थ्य संबंधी सुविधाएं सरकारी कर्मचारियों की भांति, राज्य अंश ग्रेड पे निर्धारण करते हुए मानदेय देने, मनरेगा कार्मिकों को सेवादाता संस्था व उपनल से रखे जाने का विरोध करने, प्रदेश के कई जिलों में हटाए गए कार्मिकों की पुनº बहाली करने की मांगे शामिल हैं। कहा कि कई जनपदो में हर माह कार्मिकों का दो दिन का मानेदय काटा जा रहा है। इसका संगठन पुरजोर विरोध करता है। कहा कि इससे पूर्व गत 25 व 26 फरवरी को भी कर्मचारी कमलबंद हड़ताल कर चुके है, लेकिन कोई कार्रवाई न होने से कर्मचरियों ने अब अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू की है। बैठक में संगठन के जिलाध्यक्ष दिलीप कुमार, मनोज सुमरियाल, सुधीर कुमार, आशुतोष थपलियाल, हर्षबंर्धन नेगी, नीरज नेगी, दिनेश रावत, हरीश सेमवाल, सुभाषिनी तिवारी, राजेन्द्र बाजपेयी, उत्तम सिंह समेत कई कर्मचारी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!