मुंबई में भारी बारिश व भूस्खलन, दो इमारतें गिरीं, दो की मौत

Spread the love

मुंबई, एजेंसी। मुंबई में मंगलवार रात से हो रही लगातार बारिश के कारण दो इमारतें ढह गईं। मालवणी में ढही एक इमारत के मलबे में दबकर दो लोगों की मौत हो गई, जबकि 15 अन्य को बचा लिया गया है। जबकि दक्षिण मुंबई में ढही छह मंजिली इमारत के मलबे में कई लोगों के फंसे होने की आशंका जताई जा रही है। इस बीच, घाटकोपर (पश्चिम) के साकीनाका इलाके में 90 फीट रोड मनीषा बार के पास खादी नंबर-3 पर भूस्खलन की घटना सामने आई है। यहां दस खाली मकानों को नुकसान पहुंचा है। हालांकि किसी को चोट नहीं आई है। मुंबई में 1997 के बाद जुलाई में पहली बार 24 घंटे में इतनी बारिश हुई है।
पिछले 12 घंटों में ही 468 मिमी बारिश दर्ज की जा चुकी है। निचले इलाकों में जगह-जगह पानी भर गया है, जिसका असर यातायात पर भी पड़ रहा है। बारिश के बीच ही मुंबई में दो जगह इमारतें गिरने का मामला सामने आया। उत्तर मुंबई के मालवणी में एक तीन मंजिला चल ढह गई। जिसके नीचे दब कर एक 12 वर्षीय बच्चे व एक अन्य की मौत हो गई और करीब 13 लोगों को बचा लिया गया है। जबकि दक्षिण मुंबई में छत्रपति शिवाजी टर्मिनस रेलवे स्टेशन के निकट स्थित एक छह मंजिला रिहायशी इमारत गिरने से वहां कई लोगों के दबे होने की आशंका जताई जा रही है। मुख्यमंत्री उद्घव ठाकरे ने स्वयं वहां राहत कार्य का जायजा लेने पहुंचे हैं। एक दिन पहले भी दक्षिण मुंबई के ग्रांट रोड क्षेत्र में एक इमारत का एक हिस्सा गिरने से दो लोग घायल हो गए थे।
मुंबई में पिछले 48 घंटों से चल रही बारिश के अगले अगले 24 घंटे इसी तरह जारी रहने की आशंका जताई जा रही है। मौसम विभाग की तरफ से अरेंज एलर्ट जारी किया गया है। जबकि तटीय क्षेत्रों के लिए मौसम विभाग ने रेड एलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग ने कोकण क्षेत्र में अगले 24 घंटों में 200 मिमी से अधिक बारिश होने की आशंका जताई है। कोरोना महामारी से पहले से जूझ रही मुंबई महानगर पालिका ने लोगों से जलभराव वाले इलाकों में न जाने की अपील की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!