ऑनलाइन माध्यम से लोगों को योग के प्रति जागरुक करेंग

Spread the love

देहरादून। कोरोना संक्रमण के चलते इस बार अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर दून के विभिन्न संगठन घरों में रहकर ही ऑनलाइन माध्यम से लोगों को योग के प्रति जागरुक करेंगे। इसके लिए संगठनों ने अपने स्तर से सभी तैयारियां पूरी कर ली है। वहीं योग से जुड़े प्रशिक्षित भी यूट्यूब, व्हाटसअप और फेसबुक के माध्यम से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए विभिन्न योगासनों से योग की महत्ता बताएंगे। दून में हर साल योग दिवस पर संगठनों की ओर से बड़े स्तर पर सामूहिक कार्यक्रम आयोजन किए जाते थे, लेकिन इस बार कोरोना वैश्विक महामारी के संक्रमण को रोकने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखते हुए बड़े कार्यक्रम संभव नही होंगे।आरएसएस महानगर कार्यवाह विशाल जिंदल ने बताया कि योग दिवस को संघ ने महानगर को 17 अलग-अलग सेक्टरों में बांटा है। साथ ही 50 परिवारों का एक व्हाटसअप ग्रुप बनाया है। ग्रुप प्रमुख अपने-अपने क्षेत्रों में लोगों को योगासनों के बारे में बताएंगे। साथ ही छात्रों को ऑनलाइन माध्यम से योग स्वस्थ शरीर और स्वस्थ मस्तिष्क का संदेश देंगे। संस्कार भारती जिला अध्यक्ष बलदेव पराशर ने बताया कि संस्कार भारती की 17 महानगर इकाई है। जो योग दिवस पर अपने-अपने घरों के बाहर योगासन करेंगे। गत टोली अपने मौहल्लों में लोगों के बारे में जागरुक करेंगे। साथ ही योग दिवस के लिए विभिन्न योगासनों के छोटे-छोटे वीडियो बनाकर व्हाटसप पर भेजे गए है। दून योगपीठ के संस्थापक आचार्य बिपिन जोशी ने बताया कि योग दिवस पर रविवार को सुबह सात बजे डीआईटी यूनिवर्सिटी के योग कार्यक्रम को संबोधित कर सुबह साढ़े आठ बजे विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल के यमुना कॉलोनी आवास में योगाभ्यास कराएंगे। भारत स्वभिमान पंतजलि योगपीठ के जिला प्रभारी आनंद रावत ने बताया कि फेसबुक लाइव पेज के माध्यम से योगचार्य योग की प्रस्तुति देंगे। योग संजीवनी कला एंव संस्कृति समाजिक संस्था की अध्यक्षा दीपा शर्मा ने बताया यूट्यूब चैनल और फेसबुक लाइव के माध्यम से योग प्रस्तुति देंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!