पाक स्टक एक्सचेंज पर हमलाय बीएलए ने ली जिम्मेदारी,आतंकियों समेत 11 लोगों की मौत

Spread the love

कराची। कराची में पाकिस्तान स्टक एक्सचेंज बिल्डिंग पर आतंकवादी हमले में चार आतंकियों समेत 11 लोगों की मौत
हो गई है। समाचार एजेंसी पीटीआइ के अनुसार आतंकियों ने मारे जान से पहले चार सुरक्षा गार्ड और एक पुलिस
अधिकारी को मार दिया। वहीं दो नागरिकों की भी मौत हो गई। इनके पास से खाद्य सामग्री बरामद की गई, जिससे यह
पता चसता है कि वे लंबे समय तक यहां घेराबंदी करने वाले थे।आतंकवादी समूह बलूच लिबरेशन आर्मी ने हमले की
जिम्मेदारी ली है। बीएलए ने कहा कि उसके माजिद ब्रिगेड ने व्यापारिक सप्ताह के पहले दिन हमले को अंजाम दिया।
इसमें एक आत्मघाती हमलावर भी शामिल था। इस समूह ने पिछले साल ग्वादर में पर्ल कन्टिनेंटल होटल में हमले को
अंजाम जिया था, जिसमें आठ लोग मारे गए थे।
एक समाचार पत्र के अनुसार विस्फोटकों और गोला-बारूद से लैस चार आतंकवादी, कराची स्थित पीएसइ भवन के पार्किंग
क्षेत्र में घुसे। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, आतंकवादियों ने सुरक्षा गार्डों पर ग्रेनेड देंका और गोलीबारी की। हमलावर टोयोटा
कोरोला कार से इमारत के पास पहुंचे, उसे प्रवेश द्वार के पास रोका और ग्रेनेड देंकने के बाद और गोलीबारी शुरू कर दी।
वे स्टक एक्सचेंज बिल्डिंग के अंदर घुसने का प्रयास कर रहे थे, लेकिन वे अपने इस मंसूबे में कामयाब नहीं हुए।
बिल्डिंग के अंदर मौजूद लोगों को पिछले दरवाजे से निकाला गया। आतंकियों द्वारा की गई गोलीबारी से इमारत में
मौजूद लोगों में दहशत फैल गई। इमारत और आसपास के इलाकों को सील कर दिया गया।
समाचार एजेंसी के अनुसार पुलिस सर्जन ड़क कारार अहमद अब्बासी ने कहा कि ड़ रूथ पफौ सिविल अस्पताल कराची
में पुलिसकर्मियों सहित पांच शवों और सात घायलों को लाया गया है। घटना की जानकारी मिलते ही घटनास्थल पर
पहुंचकर पाकिस्तानी रेंजर्स ने मोर्चा संभाला और चारों आतंकियों को मार गिराया। जानकारी के अनुसार घायलों में से
कई लोगों की हालत नाजुक बनी हुई है।
समाचार एजेंसी आइएएनएस के अनुसार पाकिस्तान स्टक एक्सचेंज के अधिकारियों ने जानकारी दी कि आतंकियों को
कंपाउंड में ही रोक लिया गया। परिसर में लोगों की संख्या आज सामान्य से कम थी क्योंकि कई लोग कोरोना के कारण
अभी भी घर में रह रहे हैं। पाकिस्तान रेंजर्स ने इलाके की घेराबंदी की और हालात को अपने नियंत्रण में ले लिया। क्षेत्र
को आतंकवादियों से मुक्त घोषित करने के बाद अपरेशन समाप्त हुआ।
सिंध रेंजर्स ने कहा कि आसपास के क्षेत्र में मारे गए लोगों और हथियारों को बाहर निकालने का काम जारी है। हमलावरों
के पास से हथियार और हैंड ग्रेनेड बरामद किए गए हैं। जियो टीवी से बात करते हुए कराची के इंस्पेक्टर-जनरल ने कहा
कि स्थिति नियंत्रण में है। उन्होंने यह भी कहा कि कि आतंकवादियों ने अत्याधुनिक हथियारों के साथ हमला किया था
और उनके पास एक बैग था, जिसमें संभवत: विस्फोटक था।
इस बीच, पीएसएक्स ने एक बयान में कहा श्आज पीएसएक्स कंपाउंड पर एक आतंकी हमला हुआ। प्रबंधन, सुरक्षा बलों
की मदद से स्थिति को नियंत्रित करने की कोशिश कर रहा है। स्थिति नियंत्रण में होने के बाद और अधिक विस्तृत
विवरण जारी किया जाएगा। फिलहाल गोलीबारी बंद है और अतिरिक्त सैन्य तैनात कर दिए गए हैं। सिंध के मुख्यमंत्री
मुराद अली शाह ने इस घटना की निंदा करते हुए कहा कि यह हमला राष्ट्रीय सुरक्षा और अर्थव्यवस्था पर हमले के
समान है। अराजकतत्व वायरस की स्थिति का फायदा उठाना चाहते हैं
सिंध के पुलिस महानिरीक्षक मुश्ताक महार ने डीआइजी दक्षिण से घटना की रिपोर्ट मांगी है। सिंध के गवर्नर इमरान
इस्माइल ने इस घटना की निंदा की। उन्होंने कहा कि वे आतंक के खिलाफ युद्घ को कलंकित करने के उद्देश्य से
पीएसएक्स पर हमले की कड़ी निंदा करते हैं। आइजी और सुरक्षा एजेंसियों को यह सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं कि
अपराधियों को जीवित पकड़ा जाए और उनके आकाओं को कठोर सजा दिलाई जाए। हम हर कीमत पर सिंध की रक्षा
करेंगे। बता दें कि पीएसएक्स कराची के बिजनेस सेंटर के केंद्र में स्थित है। स्टेट बैंक अफ पाकिस्तान जैसी महत्वपूर्ण
इमारतें इसके पास स्थित हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!