फरार हत्यारोपी को पौड़ी पुलिस ने हरियाणा से किया गिरफ्तार

Spread the love
Backup_of_Backup_of_add

राजस्व पुलिस से रेगुलर पुलिस को स्थानान्तरित हुआ था अभियोग
जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार : पौड़ी जिले की लक्ष्मणझूला पुलिस ने फरार हत्यारोपी को जगाधरी हरियाणा से गिरफ्तार किया है। 13 जनवरी 2023 को सियालकट तोक तहसील यमकेश्वर में एक युवक का शव मिला था। राजस्व पुलिस ने मृतक के भाई की तहरीर के आधार पर एक युवक के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था। मामला राजस्व पुलिस से रेगुलर पुलिस को स्थानान्तरित किया गया था। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने पुलिस टीम को ढार्ई हजार रूपये नगद पारितोषिक देने की घोषणा की है।
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्वेता चौबे ने बताया कि चमन लाल पुत्र राम लाल निवासी सिगड्ड़ी, पट्टी उदयपुर मल्ला-05 ने राजस्व पुलिस चौकी उदयपुर मल्ला-5 यमकेश्वर में प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज कराई कि मेरा भाई प्यारे लाल 13 जनवरी 2023 को सियालकट तोक में मृत अवस्था में पड़ा मिला। जिसके सिर से खून बह रहा था। उन्होंने विक्रम सिंह पर हत्या का आरोप लगाया। राजस्व पुलिस ने आईपीसी की धारा 302 के तहत विक्रम सिंह के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया। अभियोग गंभीर प्रवृति का होने के कारण राजस्व पुलिस से रेगुलर पुलिस को स्थानान्तरित हुआ। मामले की विवेचना थाना लक्ष्मणझूला में नियुक्त उपनिरीक्षक प्रताप सिंह को सौंपी गई। थाना लक्ष्मणझूला के प्रभारी निरीक्षक के नेतृत्व में पुलिस पुलिस गठित की गई। गठित पुलिस टीम द्वारा अविलम्ब ठोस सुरागरसी-पतारसी करते हुये सर्विलांस की मदद से जानकारी प्राप्त की गयी। पुलिस टीम द्वारा फरार अभियुक्त विक्रम सिंह उर्फ बिक्की पुत्र प्रेम सिंह निवासी ग्राम सिगड्ड़ी, पोस्ट नैल, पट्टी उदयपुर मल्ला-05, तहसील यमकेश्वर जनपद पौड़ी गढ़वाल को गत 20 जनवरी को देर सांय जगाधरी हरियाणा से गिरफ्तार किया गया। अभियुक्त को माननीय न्यायालय के समक्ष पेश कर आवश्यक वैधानिक कार्यवाही की जा रही है।
पुलिस पूछताछ में अभियुक्त ने बताया कि घटना के दिन उसने शराब का सेवन किया था और गांव के पास ही नदी की ओर चला गया था, वहां प्यारे लाल जो कि पहले से ही नशे में था मेरे पास आया और बहस करने लगा व गंदी-गंदी गालियां देने लगा और धक्का देकर मुझे गिरा दिया। जिस पर मुझे गुस्सा आ गया और मैंने प्यारे लाल को नीचे गिराकर उसके सर पर पत्थर से वार किये, जब उसके सिर से खून निकला तो मैं वहां से चुपचाप अपने घर जाकर सो गया और अगले दिन बिना बताये घर से भाग गया। ग्राम प्रधान चन्द्रमोहन सिंह रौथाण ने बताया कि पौड़ी पुलिस द्वारा घटना का तत्काल संज्ञान लेते हुये घटना का अनावरण किया गया। घटना के शीघ्र अनावरण से यमकेश्वर क्षेत्र के ग्राम वासियों के मध्य पुलिस के प्रति विश्वास एवं सुरक्षा की भावना बढ़ी है। पुलिस टीम में प्रभारी निरीक्षक विनोद सिंह गुंसाइ, उपनिरीक्षक प्रताप सिंह, कांस्टेबल अनिल यादव, सुमन आदि शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!