पौड़ी-सत्याखाल मोटरमार्ग के डामरीकरण की होगी जांच 

Spread the love
जयन्त प्रतिनिधि। 
पौड़ी। जिला प्रशासन ने मुख्यालय से सटे पौड़ी-सत्याखाल मोटरमार्ग पर हो रहे डामरीकरण की जांच के आदेश जारी कर दिए हैं। इस संबंध में जिलाधिकारी धीराज सिंह गब्र्याल ने तीन सदस्यीय टीम गठित कर जल्द ही जांच रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए हैं।
इन दिनों पौड़ी-सत्याखाल मोटर मार्ग पर लोनिवि की ओर से डामरीकरण का कार्य कराया जा रहा है। यह वही मार्ग है जहां से इडवालस्यूं पट्टी के दर्जनों गावों के ग्रामीण आए दिन अपने गंतव्यों को आवाजाही करते हैं। डामरीकरण अभी पूरा भी नहीं हुआ कि क्षेत्र के ग्रामीणों ने डामरीकरण की गुणवत्ता को लेकर ही सवाल खड़े कर दिए। सामाजिक कार्यकत्र्ता भाष्कर बहुगुणा ने बताया कि पौड़ी से सत्याखाल को जाने वाले मोटर मार्ग पर जो डामरीकरण का कार्य चल रहा है, उसकी गुणवता काफी घटिया है। इतना ही नहीं डामरीकरण के दौरान न तो ठीक ढंग से तारकोल का प्रयोग किया जा रहा है और न ही कहीं पर नालियों का निर्माण किया जा रहा है। आरोप है कि मार्ग पर गड्ढों से मिट्टी न निकालकर पत्थरों से भरा जा रहा है तथा डेढ़ किमी मार्ग का तीन दिन में ही डामरीकरण पूरा कर लिया। अब मामला जिलाधिकारी धीराज सिंह गब्र्याल के संज्ञान में आया तो डीएम ने मामले को गंभीरता से लेते हुए लोनिवि 12 वां वृत के अधीक्षण अभियंता की अध्यक्षता में तीन सदस्यीय जांच कमेटी गठित कर दी है। जिसमें उप जिलाधिकारी बारहस्यूं के अलावा ग्रामीण निर्माण विभाग के अधिशासी अभियंता को शामिल किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!