पौड़ी जिले में कोरोना से दो और मौत, मरने वालों की संख्या हुई 16, मरने वालों की संख्या हुई 16, कोटद्वार में दो सहित पौड़ी जिले में 17 और मिले कोरोना संक्रमित, जम्मू से श्रीनगर आये 12 छात्र-छात्राएं कोरोना निगेटिव 

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। जनपद पौड़ी गढ़वाल में कोरोना वायरस से दो और लोगों की मौत हो गई है। जिले में अब तक कोरोना वायरस से 16 लोगों की मौत हो चुकी है। जिले में कोरोना मरीजों की संख्या दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। अब तक पौड़ी जिले में 1455 लोग कोरोना वायरस की चपेट में आ चुके है। प्रतिदिन यह आकंड़ा बढ़ता ही जा रहा है। मंगलवार को भी जिले में 17 लोगों में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है। चिंता की बात यह है कि अब सामने आ रहे अधिकांश कोरोना मरीजों की कोई भी टै्रवल हिस्ट्री नहीं है।
जिला पौड़ी गढ़वाल के कोरोना रोकथाम वार रूम की रिपोर्ट के अनुसार रामपुर सनेह कोटद्वार निवासी 77 वर्षीय वृद्ध, काशीरामपुर तल्ला निवासी 73 वर्षीय वृद्धा की मंगलवार को कोरोना जांच के लिए रैंडम सैंपल लिया गया। दोनों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। वहीं तिलवाड़ा श्रीनगर निवासी 45 वर्षीय व्यक्ति, श्रीनगर निवासी 30 वर्षीय महिला, 23 वर्षीय युवती, 35 वर्षीय महिला, चौरास निवासी 62 वर्षीय व्यक्ति, स्वीत निवासी 72 वर्षीय वृद्ध, बचनस्यूं निवासी 29 वर्षीय महिला, श्रीनगर निवासी 22 वर्षीय युवती, नारायण बगड़ चमोली निवासी 30 वर्षीय युवक, 23 वर्षीय युवती, गौचर चमोली निवासी 73 वर्षीय वृद्ध, पौड़ी निवासी 69 वर्षीय महिला, लोअर चोपड़ा पौड़ी निवासी 24 वर्षीय युवक, यमकेश्वार ब्लॉक के भागीरथी धाम निवासी 33 वर्षीय युवक, पिथोरागढ़ निवासी 29 वर्षीय युवक की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इन सभी लोगों के रैंडम सैंपल लिये गये थे।

जम्मू से श्रीनगर आये 12 छात्र-छात्राएं कोरोना निगेटिव 
श्रीनगर गढ़वाल। जम्मू कश्मीर से एमए फाइनल सेमेस्टर की परीक्षा देने श्रीनगर पहुंचे सभी 12 छात्र-छात्राएं जांच में कोरोना निगेटिव निकले। जांच रिपोर्ट मिलने पर मंगलवार को गढ़वाल विश्वविद्यालय के मुख्य छात्रावास अधीक्षक प्रो. मोहन सिंह पंवार ने सभी छात्र-छात्राओं को अविलंब संस्थागत क्वारंटाइन सेंटर से अपने-अपने हॉस्टलों पर पहुंचने को कहा। सभी छात्र-छात्राएं कोरोना जांच सैंपल की जांच रिपोर्ट आने तक मलेथा स्थित एक होटल में संस्थागत क्वारंटाइन थे।
कुलपति प्रो. अन्नपूर्णा नौटियाल ने निर्देश जारी कर कहा है कि अन्य राज्यों से परीक्षा देने के लिए आने वाले छात्र-छात्राओं के लिए कोविड 19 के संदर्भ में विशेष व्यवस्थाएं भी की जाएं जिससे उनकी परीक्षाएं प्रभावित न हों। प्रो. पंवार ने बताया कि परीक्षा देने के लिए 250 छात्र-छात्राएं विश्वविद्यालय के चौरास परिसर और बिड़ला परिसर श्रीनगर के कुल 13 हॉस्टलों में रह रहे हैं। जहां पर उनके लिए शारीरिक दूरी बनाए रखने के नियमों का पालन अनिवार्य रूप से करवाने के साथ ही मास्क पहनने की अनिवार्यता भी लागू की गयी। मंगलवार को बिड़ला परिसर में प्रात: 11 से 12 बजे की पाली में स्नातक गृह विज्ञान और फिजिक्स की परीक्षा हुई, जिसमें 404 परीक्षार्थी शामिल हुए। अपराह्न दो से पांच की पाली में बीलिब की परीक्षा में 33 परीक्षार्थी शामिल हुए। चौरास परिसर परीक्षा केंद्र में 11 से 12 बजे की पाली में एमबीए के 53 छात्रों ने और एमबीए टूरिज्म के 28 परीक्षार्थियों ने परीक्षा दी। अपराह्न दो से तीन बजे की पाली में बीएससी यौगिक साइंस की परीक्षा में 11 परीक्षार्थी, एमए यौगिक साइंस की परीक्षा में 31 परीक्षार्थी, पीजी डिप्लोमा इन यौगिक साइंस की परीक्षा में 22 परीक्षार्थी शामिल हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!