पेयजल लाइन में लीकेज, बर्बाद हो रहा पानी

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। जल संस्थान की क्षतिग्रस्त पेयजल लाइनें लोगों के लिए मुसीबत का सबब बन गई हैं। गाड़ीघाट में पेयजल लाइन में लीकेज होने से पानी बर्बाद हो रहा है। वहीं, लोगों को पेयजल के लो प्रेशर की समस्या से जूझना पड़ रहा है। स्थानीय लोगों ने जल संस्थान से क्षतिग्रस्त पेयजल लाइन को ठीक करने की मांग की है।
जल संस्थान की पेयजल लाइनें काफी पुरानी हो चुकी हैं। लंबे समय से इनको बदलने की मांग की जा रही है, लेकिन इन्हें बदला नहीं जा सका है। जिस कारण लगातार लाइनों के लीकेज होने के मामले सामने आ रहे हैं। अधिकारियों की लापरवाही से समस्या दिन-प्रतिदिन गंभीर होती जा रही है। गाड़ीघाट में पेयजल लाइन में तीन स्थानों पर लीकेज हो रहा है। गाड़ीघाट में मात्र तीस मीटर की दूरी पर तीन स्थानों पर पेयजल लाइन क्षतिग्रस्त होने से पानी की बर्बादी हो रही है। एक स्थान पर तो जबरदस्त लीकेज के कारण भारी मात्रा में पानी निकल रहा है। जबकि दो स्थानों पर लीकेज नासूर बन चुकी है। कई बार ठीक करने के लिए गहरे गड्ढे भी खोदे गए। पर आज तक इसका समाधान नहीं हो सका है। इस कारण क्षेत्र में लो प्रेशर की समस्या भी बन गई है। ऐसी स्थिति में लोगों के दैनिक कार्य प्रभावित हो रहे हैं। स्थानीय निवासी दुर्गेश, महेश, अरविन्द आदि ने बताया कि पिछले कई दिनों से यह समस्या बनी है। इस मार्ग पर दो स्थानों पर लीकेज की समस्या काफी पुरानी हो गई है। लेकिन जल संस्थान आज तक इसका समाधान नहीं कर पाया। कई बार लीकेज को ठीक करने के लिए गड्ढें भी खोदे गए और बंद कर दिए गए। लेकिन फिर भी लीकेज को ठीक नहीं जा सका। बीते कई माह से ऐसे ही लगातार पानी के बदस्तूर बहने का सिलसिला जारी है। पार्षद को भी इस बाबत अवगत कराया गया है। इन लोगों ने जल संस्थान के अधिकारियों से समस्या से निजात दिलाने की मांग की है।
जल संस्थान के अधिशासी अभियन्ता एलसी रमोला का कहना है कि यह मामला संज्ञान में नहीं है। संबंधित अवर अभियंता को मौके पर भेज जल्द ही समस्या का समाधान करा दिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!