निजी अस्पताल पर लगाया स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ करने का आरोप

Spread the love

एसडीएम को सौंपा ज्ञापन, कार्यवाही की मांग की
जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। देश के साथ ही नगर निगम क्षेत्र कोटद्वार में कोरोना महामारी की दूसरी लहर तेजी से फैल रही है। कोटद्वार संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है, वाबजूद इसके निजी कोविड हॉस्पिटल संचालक लापरवाह बनें हुए है। नगर निगम के वार्ड नंबर 20 के प्रमोद कॉलोनी के लोगों ने इस बात की शिकायत उपजिलाधिकारी कोटद्वार से करते हुए अस्पताल प्रशासन के खिलाफ कार्यवाही की मांग की। उन्होंने रोष व्यक्त करते हुए कहा कि पूर्व में भी निजी अस्पताल के खिलाफ लिखित शिकायत दर्ज कराई गई थी, लेकिन अभी तक अस्पताल के खिलाफ कार्यवाही नहीं हो पाई है। जिससे लोगों में आक्रोश पनप रहा है।
शुक्रवार को उपजिलाधिकारी योगेश मेहरा को ज्ञापन सौंपते हुए प्रमोद कॉलोनी वासियों ने कहा कि देवी मंदिर तिराहे के पास एक निजी अस्पताल संचालित किया जा रहा है। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि अस्पताल के द्वारा कॉलोनी के निजी मार्ग का प्रयोग कोरोना मरीजोंं को अस्पताल लाने के लिए किया जा रहा है, जिस कारण कॉलोनी वासियों में कोरोना के फैलने का खतरा बना हुआ है। उन्होंने कहा कि अस्पताल द्वारा बायो मेडिकल वेस्ट सड़क किनारे फेंकने से लोगों में कोरोना महामारी का भय बना हुआ है। उन्होंने कहा कि वर्तमान समय में कोविड महामारी लगातार फैल रही है, लेकिन निजी हॉस्पिटल प्रशासन द्वारा पीपीई किट, इंजेक्शन, ग्लब्स सहित समस्त बायो मेडिकल वेस्ट को सड़क किनारे फेंका जा रहा है। जिससे कोरोना महामारी फैलने का खतरा बना हुआ है। उन्होंने कहा कि इस संबंध में अस्पताल प्रशासन को बताया गया, लेकिन इस ओर ध्यान नहीं दिया जा रहा है। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि जल्द ही अस्पताल के खिलाफ कार्यवाही न होने पर आंदोलन के लिए बाध्य होगें। उपजिलाधिकारी योगेश मेहरा ने बताया कि प्रमोद कॉलोनी वासियों ने ज्ञापन दिया है। उन्होंने कहा कि अस्पताल का निरीक्षण किया जाएगा। मानकों का उल्लघंन करने पर अस्पताल के खिलाफ कार्यवाही की जाएगी। (फोटो संलग्न है)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!