नारायणबगड़ ब्लक में हुए क्षेत्र पंचायत सदस्यों की त्रैमासिक बैठक

Spread the love
Backup_of_Backup_of_add

 

चमोली। नारायणबगड़ विकासखंड की त्रैमासिक बैठक ब्लक प्रमुख यशपाल नेगी की अध्यक्षता में आहूत की गई। जिसमें सड़क, शिक्षा, पेजयल समेत कई मुद्दे छाए रहे। अधिकारियों द्वारा जनप्रतिनिधियों का फोन नहीं उठाना और पूरी तैयारी के साथ नहीं आने से सदन के अध्यक्ष एवं जनप्रतिनिधियों ने गहरी नाराजगी व्यक्त की गई।
नारायणबगड़ विकासखंड सभागार में शुक्रवार को क्षेत्र पंचायत सदस्यों की त्रैमासिक बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में सड़क, शिक्षा, स्वास्थ्य, समाज कल्याण, पेयजल निगम समेत विभिन्न विभागों को लेकर बैठक में जनप्रतिनिधियों ने हंगामा किया। सबसे अधिक शिकायत विकासखंड में सड़कों को लेकर रही। क्षेत्र पंचायत सदस्य कन्हैया सती ने नारायणबगड़ मोटर मार्ग पर टूटे हुए पुस्तों का शीघ्र निर्माण करने की बात कही। वहीं नारायणबगड़-किमोली, नारायणबगड़-झिंझोनी, नारायणबगड़-कफारतीर समेत कई अन्य सड़कों की दयनीय स्थिति को ठीक करने की मांग की गई। वहीं ग्राम प्रधान डूंगरी नैन सिंह ने परखाल-जुनेर-घुलेट-डूंगरी मोटर मार्ग का शीघ्र निर्माण करने की बात कही। ग्राम प्रधान भंगोटा भूपेंद्र मेहरा ने 7 माह से अधिक समय से बंद भंगोटा कुशदेव मोटर मार्ग नहीं खुलने से नाराजगी व्यक्त की।
ग्राम प्रधान सणकोट अंशी देवी ने नारायणबगड़, परखाल सणकोट मोटर मार्ग की जर्जर स्थिति का मुद्दा सदन के समक्ष रखा। वहीं क्षेत्र पंचायत सदस्य पृथ्वी पाल सिंह बिष्ट ने नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि अधिकारियों के द्वारा जनप्रतिनिधियों का फोन नहीं उठाया जाता है। वहीं ग्राम प्रधान कौब लक्ष्मण कुमार ने राजकीय इंटर कलेज कौब के भवन निर्माण का मुद्दा सदन के समक्ष रखा। प्रधान संगठन के उपाध्यक्ष महेश कुमार ने राजकीय प्राथमिक विद्यालय देवली में एकल शिक्षक होने के कारण प्रभावित हो रहे शिक्षण कार्य का मुद्दा उठाया। वहीं जनप्रतिनिधियों द्वारा हर घर जल हर घर नल योजना के तहत कई सवाल विभागों से पूटे। इस अवसर पर शिक्षा, स्वास्थ्य, विद्युत विभाग, वन विभाग, समाज कल्याण, पेयजल निगम, जल संस्थान, स्वजल समेत विभिन्न विभागों के सक्षम अधिकारी बैठक में उपस्थित रहे। वहीं ब्लाक प्रमुख एवं सदन के अध्यक्ष यशपाल नेगी ने अधिकारियों को जनप्रतिनिधियों का फोन उठाने एवं पूरी तैयारी के साथ बैठक में आने का आदेश दिया। कहा कि अधिकारी पूरी तैयारी के साथ बैठक में नहीं आते हैं और सवाल पूछने पर बगले झांकते रहते हैं। जिस कारण विकास कार्य प्रभावित हो रहे हैं। इस अवसर पर जिला विकास अधिकारी सुमन राणा खंड विकास अधिकारी राकेश नयाल, संजय पंत, दर्शन नेगी, पृथ्वी सिंह नेगी, भूपेंद्र सिंह समेत बड़ी संख्या में जनप्रतिनिधि एवं अधिकारी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!