रामलीला मैदान के अतिरिक्त नहीं लगेंगी पटाखों की दुकानें

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
श्रीनगर गढ़वाल। दीपावली पर्व की व्यवस्थाओं को लेकर शुक्रवार को श्रीनगर कोतवाली परिसर में बैठक हुई। जिसमें व्यापार सभा, रामलीला कमेटी के पदाधिकारियों के साथ ही अन्य संगठनों के प्रतिनिधि और लोनिवि के अधिशासी अभियंता डीसी नौटियाल, जलसंस्थान, बिजली विभाग के अधिकारी भी शामिल हुए। बैठक में निर्णय लिया गया कि दीपावली पर्व पर पटाखों की दुकानें रामलीला मैदान में ही लगेंगी। रामलीला मैदान के अतिरिक्त अन्य किसी स्थान पर पटाखों की बिक्री नहीं होगी।
श्रीनगर कोतवाल मनोज रतूड़ी ने कहा कि हर पटाखा विक्रेता को दुकान पर सुरक्षा के सभी पूर्ण प्रबन्ध करने अनिवार्य हैं। अभी तक पटाखों की दुकानें जीआइटीआइ मैदान में लगा करती थीं। लेकिन वहां पर रेल लाइन निर्माण का कार्य शुरू होने पर वहां पर दुकानें लगनी संभव नहीं हैं। इसलिए रामलीला मैदान में पटाखों की दुकानें लगाने का निर्णय लिया गया। बैठक में टैक्सी वाहनों की पार्किग को लेकर भी विचार किया गया। पुराना महिला थाना परिसर को पूर्व में टैक्सी वाहन पार्किंग के लिए चिन्हित किया गया था। जिस पर पालिका के अधिशासी अधिकारी राजेश नैथानी ने कहा कि वहां पर वाहनों की पार्किग के लिए आवश्यक सुविधाएं शीघ्र उपलब्ध करा दी जाएगी। तहसीलदार सुनील राज के साथ ही कोतवाल मनोज रतूड़ी और ईओ पालिका राजेश नैथानी ने संयुक्त अस्पताल के सामने एनएच किनारे और पॉलीटेक्निक के सामने आवास विकास की भूमि पर भी वाहनों की पार्किंग सुविधा को लेकर विचार किया। दीपावली पर्व को लेकर श्रीनगर कोतवाल परिसर में बुलाई गई बैठक में पर्व को शांतिपूर्ण व्यवस्था के साथ मनाने का निर्णय लिया गया। पुलिस उपाधीक्षक श्यामदत्त नौटियाल ने दीपावली पर्व को लेकर आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिए। व्यापारी नेताओं के साथ ही विभिन्न संगठनों के प्रतिनिधियों ने भी बैठक में सुझाव देते हुए विचार व्यक्त किए। रामलीला कमेटी के महासचिव मुकेश अग्रवाल, व्यापार सभा के जिला उपाध्यक्ष आनंद भंडारी, रोटरी क्लब अध्यक्ष ओपी गोदियाल, वासुदेव कंडारी के साथ ही अन्य व्यापारी नेता भी बैठक में शामिल हुए।

बाहरी लोगों का सत्यापन करवाना जरूरी
ग्राम प्रहरियों के साथ बैठक करते हुए श्रीनगर कोतवाल मनोज रतूड़ी ने कहा कि गांव में कार्य करने वाले हर बाहरी व्यक्ति बिहारी मजदूर, ठेकेदार का सत्यापन करवाना अनिवार्य है। किसी भी संदिग्ध व्यक्ति की सूचना तत्काल पुलिस बीट प्रभारी को दें। गांव में होने वाली किसी भी घटना अथवा विवाद की जानकारी भी पुलिस कर्मी को तुरंत देने के निर्देश कोतवाल मनोज रतूड़ी ने ग्राम प्रहरियों को दिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!