शिव मंदिर के पास शौचालय निर्माण के विरोध में प्रदर्शन

Spread the love

अल्मोड़ा। चिलियानौला स्थित प्राचीन शिव मंदिर के प्रवेश द्वार के पास शौचालय निर्माण का विरोध तेज हो गया है। निर्माणाधीन शौचालय में लिंटर पड़ने की भनक लगते ही पालिका वासी व क्षेत्र के ग्रामीणों का गुस्सा भड़क उठा। क्षेत्र के लोगों ने चिलियानौला नगर पालिका कार्यालय में प्रदर्शन किया। मौके पर हुई सभा में लोगों ने कहा कि क्षेत्रवासियों की असीम आस्था के केंद्र प्राचीन शिवालय के पास शौचालय निर्माण को हरगिज बर्दाश्त नहीं किया जा सकता। सूचना के बाद रानीखेत से एसडीएम अभय प्रताप सिंह व थानाध्यक्ष बोहरा भी मौके पर पहुंचे। एसडीएम ने आश्वासन दिया कि शौचालय दूसरी जगह शिफ्ट किया जाएगी। जिसके बाद बाद लोगों का गुस्सा शांत हुआ और प्रदर्शन समाप्त किया गया। गौरतलब है कि नगरपालिका की ओर से मंदिर के पास शौचालय निर्माण किया जा रहा है। पालिका का तर्क है कि है कि मंदिर परिसर में मेला व बदे कार्यक्रम आयोजित होते हैं। इसीके मद्देनजर लोगों की सुविधा के लिए शौचालय निर्माण किया जा रहा था। जबकि लोगों का कहना है कि आस्था के केंद्र के पास शौचालय का निर्माण होने से जहां धार्मिक भावनाएं आहत हुई हैं, वहीं शौचालय के पिट से प्राचीन नौले का पानी भी दूषित होगा। कहा कि पूर्व में भी काम रोकने के लिए पालिका प्रशासन को ज्ञापन दिया था। अध्यक्ष सहित सभासदों की कार्यप्रणाली पर भी सवाल उठाए। कहा कि यदि निर्माण पर रोक नहीं लगी तो आंदोलन होगा। थानाध्यक्ष रमेश बोहरा ने भी लोगों को समझाने का प्रयास किया। बाद में प्रभारी ईओ एसडीएम अभय प्रताप सिंह मौके पर पहुंचे। उन्होंने शौचालय के लिए अन्यत्र जमीन चयनित करने आश्वासन देकर फिलहाल लोगों को शांत किया। कार्यक्रम में पूर्व प्रधान कवींद्र सिंह कुवार्बी, मदन कुवार्बी, कमल सिंह, बीडीसी नीरज तिवारी, प्रताप सिंह, देवेंद्र सिंह, प्रधान हेमा कुवार्बी, हरी राम, कुबेर सिंह, कमलेश बोरा, पालिकाध्यक्ष कल्पना देवी, सभासद उमा रावत, अरुण रावत आदि मौजूद रहे।
-मंदिर के पास शौचालय निर्माण को लेकर आपत्ति के चलते शौचालय के लिए दूसरी जगह जमीन चयनित की जाएगी। मंदिर परिसर में कई तरह के आयोजनों के के मद्देनजर लोगों की सुविधा के लिए शौचालय बनाने की सहमति बनी थी।
-अभय प्रताप सिंह, एसडीएम रानीखेत व प्रभारी ईओ, नगरपालिका।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!