सनेह क्षेत्र के कुम्भीचौड़ में हाथियों ने जमकर मचाया उत्पात

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। मंगलवार रात को सनेह क्षेत्र के कुम्भीचौड़ में हाथियों ने जमकर उत्पात मचाया। हाथियों ने मक्का, चरी वअन्य फसलें चट कट दी। लोगों ने बड़ी मुश्किल से हाथियों को जगंल की ओर भगाया। हाथियों के आतंक से लोगों में भय व्याप्त है। लोगों का आरोप का है कि पिछले कई दिनों से हाथियों का झुण्ड खेतों में घुसकर फसल बर्बाद कर रहे है, लेकिन वन वन विभाग के अधिकारी जानकारी के बावजूद भी ध्यान नहीं दे रहे है। जिस कारण लोगों में आक्रोश पनप रहा है। लोगों ने बताया कि पूर्व में वन विभाग की ओर से हाथियों को रोकने के लिए सोलर लाइन लगाई गई थी, लेकिन विभागीय लापरवाही के कारण सोलर लाइन पिछले काफी समय से खराब पड़ी हुई है। जिस कारण हाथी आये दिन खेतों में घुस रहे है।
मंगलवार रात को करीब 10 बजे तीन हाथियों का झुण्ड कुम्भीचौड़ के ढौड़ियाल और पंत मोहल्ले में घुस गया। हाथियों के चिंघाड़ने की आवाज सुनकर लोग घबरा गये। दोनों मोहल्लों के लोग ने शोर मचाकर हाथियों को जगंल की ओर भगाने का प्रयास किया, लेकिन हाथी का झुण्ड जंगल की ओर जाने के बजाय खेतों में घुस गया। हाथियों ने खेतों में बोई हुई चरी और मक्का को चट कर दिया। साथ ही चरी और मक्का की फसल को तहस-नहस कर दिया। बुधवार सुबह करीब साढ़े पांच बजे लोगों ने कड़ी मशक्कत के बाद हाथियों को जंगल की ओर भगाया। वरिष्ठ नागरिक संगठन पट्टी सनेह के अध्यक्ष रतन सिंह नेगी ने वन विभाग पर लोगों के जानमाल की सुरक्षा नहीं करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ दिनों से हाथी आये दिन खेतों में घुसकर फसल को बर्बाद कर रहा है। कई बार वन विभाग के अधिकारियों को अवगत कराने के बावजूद भी अधिकारी इस ओर ध्यान नहीं दे रहे है। उन्होंने कहा कि हाथियों के आंतक से परेशान अधिकांश लोगों ने खेती करना छोड़ दिया है। वहीं, स्थानीय लोगों ने वन विभाग से क्षेत्र में गश्त बढ़वाने की मांग की है। उन्होंने कहा कि हाथियों के डर से लोगों का घरों बाहर निकलना भी मुश्किल हो जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!