कोटद्वार के लिए नोएडा से चले प्रवासी की संदिग्ध मौत

Spread the love

स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना जांच के लिए भेजा सैंपल, परिजन व चालक किया आइसोलेट
जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। कोरोना के डर से दिल्ली से अपने घर कोटद्वार आने के लिए टैक्सी बुक कर आ रहा प्रवासी उत्तराखण्ड की सीमा पर स्थित कोरोना जांच पोस्ट कौड़िया में मृत पाया गया। जिससे जांच चौकी सहित परिजनों में दहशत फैल गई। कौड़िया चेक पोस्ट पर जांच के लिए पहुंचे मृतक व परिजनों का स्वास्थ्य विभाग ने सैंपल ले लिया है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा परिजनों व चालक को आइसोलेट कर दिया है। जबकि मौत के स्पष्ट कारणों के लिए मृतक के शव का पोस्टमार्टम किया गया। कोविड-19 की नई गाइड लाइन के अनुसार पुलिस की मौजूदगी में मृतक का अंतिम संस्कार परिजनों ने किया।
प्रभारी तहसीलदार विकास अवस्थी ने बताया कि इन्द्रानगर आमपड़ाव निवासी 51 वर्षीय मोहन सिंह पुत्र चन्द्र सिंह नोएडा उत्तर प्रदेश से बुधवार सुबह अपने परिजनों व चालक के साथ निजी वाहन से कोटद्वार के लिए निकले। सुबह करीब 11 बजे वह कौड़िया चेक पोस्ट पर पहुंचे। कौड़िया चेक पोस्ट पर मौजूद पुलिस व स्वास्थ्य कर्मियों ने उन्हें जांच कराने को कहा। परिजनों ने जब उन्हें जांच के लिए गाड़ी से उतरने को कहा तो वह नहीं उठे पाये और बेहोशी की हालत में थे। परिजनों ने वहां पर मौजूद पुलिस व स्वास्थ्य कर्मियों को जानकारी दी। स्वास्थ्य कर्मियों ने परिजनों को मोहन सिंह को अस्पताल ले जाने को कहा। जिस पर परिजन उसे लेकर राजकीय बेस अस्पताल लाये। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। प्रवासी की मौत के बाद स्थानीय प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया। इसके बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम ने शव को सेफ्टी बैग में रख दिया और मृतक का कोरोना सैंपल लेकर जांच के लिए भेज दिया। वहीं प्रशासन ने एहतियातन टैक्सी चालक और परिवार के चार सदस्यों को आइसोलेट कर दिया है। साथ ही उनकी भी कोरोना सैंपलिंग की जा रही है। सूचना पर प्रभारी तहसीलदार विकास अवस्थी, नायाब तहसीलदार आरपी पंत बेस अस्पताल पहुंचे। प्रभारी तहसीलदार विकास अवस्थी ने बेस अस्पताल के प्रमुख अधीक्षक डॉ. वीसी काला से घटना से बारे में जानकारी ली।
प्रभारी तहसीलदार ने मृतक के परिजनों से मिली जानकारी के अनुसार बताया कि मृतक लंबे समय से कैंसर से पीड़ित था। जिसका उपचार दिल्ली से चल रहा था। उन्होंने बताया कि मृतक के शव को पोस्टमार्टम कराया गया। मृतक का सैंपल लेकर कोरोना जांच के लिए भेज दिया है। मौत के स्पष्ट कारण के बारे में पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही कहा जा सकता है। मृतक के परिजनों के सैंपल भी कोरोना जांच के लिए भेजे जायेगें। परिजनों को स्वास्थ्य विभाग द्वारा चार परिजनों व चालक को आइसोलेट कर दिया गया है। कोतवाली प्रभारी निरीक्षक मनोज रतूड़ी ने बताया कि कोविड-19 की नई गाइड लाइन के अनुसार पुलिस की मौजूदगी में मुक्तिधाम में मृतक का अंतिम संस्कार परिजनों ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!