सुप्रीम कोर्ट से दिल्ली की सीमाओं से किसानों को हटाने का अनुरोध

Spread the love

नई दिल्ली, एजेंसी। दिल्ली की सीमाओं पर धरना-प्रदर्शन कर रहे किसानों को तत्काल हटाने के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका देने वालेाषभ शर्मा ने हलफनामा दायर कर आंदोलन को शाहीन बाग मामले में उसके फैसले के खिलाफ भी बताया है। शर्मा ने शनिवार को हलफनामा दायर किया। इसमें कहा है कि शीर्ष अदालत ने सार्वजनिक व्यवस्था को नुकसान पहुंचाए बिना विरोध प्रदर्शनों की अनुमति दी है, लेकिन इसकी वजह से आम लोगों को होने वाली परेशानी पर कुछ नहीं कहा है। इस तरह की अनुमति उसके शाहीन बाग मामले में दिए गए फैसले का उल्लंघन भी है।
अखबारों में प्रकाशित खबरों का जिक्र करते हुए शर्मा ने कहा है कि सार्वजनिक सड़कों पर किसानों के आंदोलन से आम लोगों को परेशानी होने के साथ ही कच्चे माल की कीमतें भी 30 फीसद तक बढ़ गई हैं। इससे तैयार माल अपने आप ही महंगे हो जाएंगे। उन्होंने यह भी कहा है कि किसानों के आंदोलन से देश को रोजाना 3,500 करोड़ रुपये का नुकसान हो रहा है।
ऋषभ शर्मा ने 20 दिसंबर को सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर किसानों को दिल्ली की सीमाओं से तुरंत हटाने का अनुरोध किया था। शर्मा का कहना था कि आंदोलन के चलते सड़कें बंद हो गई हैं, जिसकी वजह से आम राहगीरों को परेशानी तो हो रही है, एक जगह भीड़ के चलते कोरोना वायरस के फैलने का खतरा भी बढ़ गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!