गढ़वाल विवि की उदासीनता छात्रों पर पड़ रही भारी

Spread the love

-छात्रों ने परीक्षा के आयोजन के लिए केंदीय शिक्षा मंत्री से लगाई गुहार
जयन्त प्रतिनिधि।
श्रीनगर।
परीक्षाओं के आयोजन पर गढ़वाल केंद्रीय विवि की उदासीनता छात्रों पर भारी पड़ रही है। जहां राज्य विवि विषम सेमेस्टरों की परीक्षाएं संपन्न करा चुके हैं और जून माह में सम सेमेस्टरों की परीक्षाओं पर विचार कर रहे हैं। वहीं, गढ़वाल विवि अभी तक परीक्षाओं के बारे में कोई निर्णय नहीं ले पाया है। परीक्षाएं न होने से परेशान छात्रों ने केंद्रीय शिक्षा मंत्री से भी गुहार लगाई हैं।
छात्रों का कहना है कि विवि प्रशासन उनके भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रहा है। कोरोना संक्रमण के चलते देश भर में शैक्षणिक संस्थाएं बंद हैं। अधिकांश शैक्षणिक संस्थाओं में पठन-पाठन ऑन लाइन आयोजित हो रही हैं। वहीं देश व उत्तराखंड के विभिन्न विश्व विद्यालय परीक्षाओं को लेकर काफी चिंतित हैं। कई विवि परीक्षाओं की वैकल्पिक व्यवस्थाओं पर विचार कर रहे हैंं। जिससे कि शैक्षणिक संस्थाओं के सत्र पर कोई प्रभाव न पड़े। प्रदेश के दून विवि ने तो अपने सभी विषम सेमेस्टरों की परीक्षाएं 31 मार्च तक संपन्न करा दी थी और जून माह में सम सेमेस्टर की परीक्षाओं के आयोजन पर विचार कर रहा है। लेकिन इन सब के बीच गढ़वाल विवि परीक्षाओं के आयोजन को लेकर बेपरवाह बना हुआ है। गढ़वाल विवि बिडला परिसर छात्र संघ अध्यक्ष अंकित रावत का कहना है कि सीबीएसई अपने 14 लाख छात्रों की परीक्षा को लेकर चिंतित है। 12वीं की परीक्षाएं कैसे आयोजित की जाए इसके लिए सीबीएसई केंद्र सरकार को दो सुझाव दे चुका है। उत्तराखंड का दून विवि जून माह में परीक्षाएं आयोजित करने जा रहा है। लेकिन गढ़वाल विवि कोरोना का नाम लेकर हाथ पर हाथ धरे बैठा है। विवि को छात्रों के भविष्य की कोई पिक्र ही नहीं है। पूर्व विवि प्रतिनिधि अंकित उछोली का कहना है कि अब तक सम सेमेस्टरों की परीक्षाएं आयोजित हो जानी चाहिए थी। लेकिन अभी तक विषम सेमेस्टरों की परीक्षाएं ही आयोजित नहीं कर पाया है। जिससे विवि का शैक्षणिक सत्र पूरी तरह पटरी से उतर गया है। इधर, गढ़वाल विवि के परीक्षा नियंत्रक प्रो. अरुण रावत का कहना है कि कोरोना संक्रमण के चलते परीक्षाएं स्थगित की गई है। परीक्षा कार्यक्रम घोषित करना एक नीतिगत मामला है। ऊपरी स्तर के निर्देशानुसार ही निर्णय लिया जाएगा।

केस-1
मैं गढ़वाल विवि में बीएससी का छात्र हूं। मैंने इस मई माह में सीडीएस लिखित परीक्षा क्वालीफाई की। यूपीएससी ने जुलाई माह तक स्नातक की प्रोविजनल डिग्री जमा करने के निर्देश दिए थे। लेकिन अंतिम सेमेस्टर तो दूर, अभी तक पंचम सेमेस्टर की परीक्षाएं पूर्ण नहीं हुई हैं। इस वजह से मैं एसएसबी शामिल नहीं हुआ। गौरव कठैत

केस-2
मैं एसआरटी परिसर टिहरी में एलएलबी पंचम सेमेस्टर का छात्र हूं। विवि ने फरवरी 2021 में संपन्न हुई चतुर्थ सेमेस्टर की परीक्षाओं का रिजल्ट घोषित नहीं किया है। जबकि पंचम की परीक्षाएं शुरू नहीं हुई हैं। मैंने एलएलएम में एडमिशन लेना है। जिसके लिए आवेदन भी किए हैं। लेकिन विवि की कार्यप्रणाली देखकर लगता है कि इस साल के अंत तक अंतिम सेमेस्टर की परीक्षा हो पाएं। उत्सव शर्मा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!