ट्रैक्टर-ट्रॉली चोरी मामले में मामा-भांजा समेत 3आरोपी गिरफ्तार

Spread the love

हरिद्वार। पथरी क्षेत्र के घिस्सुपुरा से ट्रैक्टर-ट्रॉली चोरी करने वाले मामा-भांजा समेत तीन आरोपितों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। सीओ लक्सर राजन सिंह ने शुक्रवार को पथरी थाने में पूरे मामले का पर्दाफाश किया। पुलिस के मुताबिक घिस्सुपुरा निवासी अमीर अहमद ने अपना ट्रैक्टर-ट्रॉली गांव के बाहर आम के बाग में खड़ी की थी। रात को चोरों ने ट्रैक्टर-ट्रॉली चोरी कर ली थी। अमीर की तहरीर पर पुलिस ने केस दर्ज कर चोरों की तलाश में जुट गई थीं। पथरी थानाध्यक्ष सुखपाल मान के नेतृत्व में पुलिस टीम ने सीसीटीवी कैमरे की फुटेज खंगाली। टीम ने लक्सर से बालावाली जाने वाले मार्ग से तीन आरोपितों को ट्रैक्टर के साथ गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में उन्होंने अपने नाम गुलजार निवासी बसेड़ी खादर, जुल्फिकार निवासी घिस्सुपुरा और तनवीर निवासी बसेड़ी खादर लक्सर हरिद्वार बताया। आरोपितों ने ट्रैक्टर-ट्रॉली चोरी करने की बात कुबूल की। उनकी निशानदेही पर पुलिस ने नजीबाबाद के कबाड़ी अमन के गोदाम से ट्रॉली का लोहा और रिम बरामद कर लिए। पथरी थाने में पत्रकारों से बातचीत में सीओ लक्सर राजन सिंह ने बताया कि बसेड़ी निवासी जुल्फिकार घिस्सुपुरा निवासी गुलजार का मामा है। भांजे गुलजार ने ही ट्रैक्टर-ट्रॉली चोरी की योजना मामा को बताई। जुल्फिकार साथी तनवीर को लेकर घिस्सुपुरा पहुंचा और चोरी को अंजाम दिया। पुलिस टीम में एसओ पथरी सुखपाल मान, उपनिरीक्षक उमेश कुमार, गजेंद्र रावत, वीरेंद्र नेगी, कांस्टेबल संतोष, सुखविद्र, दौलत, मदनपाल, दिनेश, सौदीश कुमार शामिल रहे। एसओजी प्रभारी राजीव चौहान की टीम ने भी सहयोग किया।
शपथ पत्र पर बेची ट्रॉली
ट्रैक्टर-ट्रॉली चोरी करने के बाद आरोपितों ने नजीबाबाद के कबाड़ी को बकायदा शपथ पत्र पर ट्रॉली के पुर्जे बेचे। उन्होंने शपथ पत्र में झूठ बोला कि ट्रॉली उनकी है। दरअसल कबाड़ी ने बिना शपथ माल खरीदने से मना कर दिया था। चूंकि कबाड़ी ने पुलिस को सबकुछ सच बताया और शपथ पत्र सहित माल भी बरामद करा दिया। इसलिए पुलिस ने शपथ पत्र को जांच का हिस्सा बनाया है। पथरी थानाध्यक्ष सुखपाल मान ने बताया कि तीनों के खिलाफ पहले भी चोरी के मामले दर्ज हैं। गुलजार के खिलाफ पोक्सो एक्ट का मुकदमा भी दर्ज चला आ रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!