उच्च शिक्षा मंत्री के काफिले को आंदोलनकारी छात्रों ने सड़क में रोका

Spread the love

अल्मोड़ा। स्थानीय राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय की समस्याओं को लेकर आंदोलनरत छात्रसंघ व एबीवीपी कार्यकर्ताओं ने शनिवार को रानीखेत पहुंचे उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. धन सिंह रावत के काफिले को कालेज के पास सड़क में रोक दिया। मंत्री ने छात्रों की समस्याओं का जल्द निस्तारण करने का आश्वासन देते हुए उनके प्रतिनिधिमंडल को दून आमंत्रित किया। मंत्री के आश्वासन के बाद छात्रसंघ ने आंदोलन समाप्त कर दिया। रानीखेत महाविद्यालय की विभिन्न समस्याओं को लेकर छात्रसंघ के नेतृत्व में कालेज परिसर में आंदोलन चल रहा था। आंदोलन के समर्थन में एबीवीपी कार्यकर्ता भी कालेज में धरना दे रहे थे। बीते शुक्रवार को आमरण अनशन के दूसरे दिन भूख हड़ताल में बैठे छात्रसंघ अध्यक्ष व महासचिव सुधांशु भट्ट की हालत बिगड़ने पर प्रशासन ने रात के वक्त उन्हें जबरन उठाकर राजकीय चिकित्सालय में भर्ती कराया। इधर, शनिवार की पूर्वाह्न को-ऑपरेटिव ड्रग फैक्ट्री जा रहे मंत्री के काफिले को आंदोलनकारी छात्रों व एबीवीपी कार्यकर्ताओं ने तिरंगा तिराहे के पास रोक दिया। इसके बाद मंत्री ने आंदोलनकारियों से वार्ता कर समस्याओं की जानकारी ली। उन्होंने छात्रों की समस्याओं का जल्द निस्तारण करने का भरोसा दिलाया। साथ ही छात्रों के प्रतिनिधिमंडल को वार्ता के लिए आगामी 15 अक्तूबर को देहरादून आने का न्यौता दिया। डॉ. रावत ने कहा कि छात्रों की मांग पर उन्होंने कालेजों में ऑनलाइन व ऑफलाइन एडमिशन की तिथि 30 अक्तूबर तक बढ़ा दी है। एक नवंबर से कक्षाएं शुरू होंगीं। छात्रसंघ व एबीवीपी ने मंत्री का आभार जताते हुए उन्हें ज्ञापन भी सौंपा। मंत्री के आश्वासन पर छात्रसंघ ने आंदोलन समाप्त करने की भी घोषणा की। इस मौके पर छात्रसंघ अध्यक्ष मनीष भैसोड़ा, महासचिव सुधांशु भट्ट सहित एबीवीपी कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!