वन आरक्षी परीक्षा में नकल कराने वाला एक और आरोपी गिरफ्तार

Spread the love

प्रश्न पत्र, ओआरएम सीट एवं ब्लूटूथ डिवाईस बरामद
जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। पौड़ी पुलिस ने उत्तराखण्ड वन आरक्षी परीक्षा में धांधली कर नकल कराने वाले गिरोह के एक सदस्य को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने अभियुक्त से प्रश्न पत्र,
ओआरएम सीट एवं ब्लूटूथ डिवाईस बरामद की। अभियुक्त उपरोक्त विजयदीप के सम्बन्ध में आपराधिक इतिहास की जानकारी प्राप्त की जा रही है।पुलिस ने आरोपी
को न्यायालय में पेश किया। न्यायालय ने आरोपी को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है।
एसएसपी पौड़ी दलीप सिंह कुंवर ने बताया कि कोतवाली पौड़ी में गोपाल सिंह निवासी बूड़पुरजट नारसन कला, थाना मंगलौर जनपद हरिद्वार द्वारा प्रथम
सूचना रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। वादी ने बताया था कि 16 फरवरी 2020 को उत्तराखंड वन आरक्षी की परीक्षा में कुछ व्यक्तियों द्वारा उसके पुत्र जो कि उक्त परीक्षा
का अभ्यर्थी था को नकल कराने का लालच देकर उक्त परीक्षा में पास कराकर वन आरक्षी की नौकरी लगाने की गारंटी देकर धोखाधड़ी की गई। पौड़ी कोतवाली में
प्रथम सूचना रिपोर्ट के आधार पर धारा 420/120 (बी)/201 व 9/10 उत्तर प्रदेश सार्वजनिक परीक्षा नकल निवारण अधिनियम के तहत पंकज आदि तीन युवकों के
खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया था। मामले की जांच सीओ सदर वंदना वर्मा को सौंपी गई थी और जनपद स्थर पर पुलिस टीम का गठन किया गया। मामले में
दो अभियुक्त सुधीर एवं कुलदीप को पूर्व में ही गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है। क्षेत्राधिकारी सदर सुश्री वंदना वर्मा विवेचना अधिकारी रहते हुए सीआईयू टीम
कोटद्वार को अपने सहयोगार्थ लगाया। मामले की विवेचना करते हुए जनपद स्तर पर गठित पुलिस टीम द्वारा 13 जून 2020 को अभियुक्त विजयदीप पुत्र गोपाल सिंह
निवासी बुडपुरजट, थाना मंगलौर जिला हरिद्वार को जनपद मुजफ्फनगर उत्तर प्रदेश से गिरफ्तार किया गया। वह फरार चल रहा था। एसएसपी ने बताया कि
अभियुक्त विजयदीप को न्यायालय पौड़ी में पेश किया गया। न्यायालय द्वारा अभियुक्त विजयदीप को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है। पुलिस
टीम में सीओ सदर पौड़ी वंदना वर्मा, सीआईयू प्रभारी रफत अली, हेड कांस्टेबल सुशील कुमार, कांस्टेबल देवेन्द्र, संतोष, अरविन्द, हरीश, संजय जोशी आदि शामिल
थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!