पहाड़ी से नीचे गिरा युवक, एसडीआरएफ और पुलिस ने किया रेस्क्यू

Spread the love

जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। एक स्कूटी सवार युवक कोटद्वार से लैंसडौन जाते हुए शौच करने के लिए आमसौड़ के पास रूका। इस दौरान पैर फिसलने से वह पहाड़ी से नीचे गिर गया। घटना दो दिन पुरानी बताई जा रही है। गुरूवार को पुलिस को सूचना मिली कि आमसौड़ के पास एक व्यक्ति खाई में गिरा हुआ है। सूचना पर तत्काल पुलिस और एसडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंचे। एसडीआरएफ और पुलिस ने रेस्क्यू कर घायल को राजकीय बेस अस्पताल कोटद्वार में भर्ती कराया।
दुगड्डा पुलिस चौकी प्रभारी उपनिरीक्षक इंद्रजीत सिंह राणा ने बताया कि गुरूवार को पौने एक बजे दुगड्डा निवासी बचन सिंह ने सूचना दी कि एक स्कूटी दुगड्डा से करीब 10 किलोमीटर दूर पांचवें मील के पास सड़क किनारे 3 तीन से खड़ी है। कुछ अनहोनी प्रतीत हो रही है। सूचना पर वह कांस्टेबल राकेश गुसांई, मनोज कुमार, अनिरूद्ध के साथ तत्काल मौके पर पहुंचे। स्कूटी के आसपास खोजबीन करने पर सड़क के किनारे खाई में एक जूता पड़ा मिला। पुलिस खोजबीन करते हुए जब नदी में उतरी तो सड़क से करीब 100 फुट नीचे झाड़ियों के बीच एक व्यक्ति पड़ा मिला जिसकी सांसे चल रही थी और बोल रहा था। व्यक्ति के दोनों पैर फैक्चर हो रखे थे। तत्पश्चात एसडीआरएफ टीम एवं 108 एंबुलेंस को सूचित कर घटनास्थल पर बुलाया गया। रेस्क्यू कर घायल व्यक्ति को एंबुलेंस के माध्यम से राजकीय बेस अस्पताल कोटद्वार भर्ती कराया गया।
गाजियाबाद निवासी घायल 29 वर्षीय उपेंद्र त्यागी पुत्र जितेंद्र त्यागी को करीब 100 मीटर गहरी खाई से निकालकर एंबुलेंस के माध्यम से चिकित्सालय उपचार के लिए भेज दिया गया है। युवक गाजियाबाद निवासी उपेंद्र त्यागी है। घायल उपेंद्र त्यागी ने पुलिस को बताया कि 20 जुलाई को वह गाजियाबाद से लैंसडौन जा रहा था। आमसौड़ के पास वह शौच करने के लिए रूका। इसी दौरान दोपहर पौने तीन बजे वह फिसलकर खाई में गिर गया। उसने काफी आवाज लगाई गई परंतु सुनसान जगह होने के कारण उसकी आवाज किसी को सुनाई नहीं पड़ी। लगभग दो दिनों तक भूखे प्यासे बारिश में वह गुहार लगता रहा परंतु कोई मदद न मिल पाई। गुरूवार को पुलिस और एसडीआरएफ की टीम देवदूत बनकर आयी। घायल उपेंद्र त्यागी ने पुलिस और एसडीआरएफ टीम का आभार व्यक्त किया।  दुगड्डा पुलिस चौकी प्रभारी उपनिरीक्षक इंद्रजीत सिंह राणा ने बताया कि घायल व्यक्ति उपेंद्र की सूचना उनके पिता गजेंद्र सिंह त्यागी को उनके मोबाइल नंबर पर दे दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!