अभाविप ने स्थाई एसडीएम और तहसीलदार की तैनाती की मांग

Spread the love
Backup_of_Backup_of_add

जयन्त प्रतिनिधि।
पौड़ी : अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की थलीसैण इकाई ने तहसील में स्थाई एसडीएम व तहसीलदार की तैनाती की मांग की है। उन्होंने कहा तहसील में अधिकारियों के नहीं होने से ग्रामीणों को जन समस्याओं के समाधान को लेकर परेशानियों से जूझना पड़ता है। अभाविप कार्यकर्ताओं ने क्षेत्र में एनसीसी यूनिट खोले जाने की भी मांग उठाई है।
अभाविप की थलीसैंण इकाई पदाधिकारियों ने डीएम पौड़ी को ज्ञापन दिया। इस दौरान सह विभाग संयोजक व पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष अजयपाल सिंह नेगी ने बताया कि तहसील थलीसैंण लंबे समय से प्रभारी एसडीएम व तहसीलदार के भरोसे चल रहा है। जिससे ग्रामीणों की समस्याओं का समय पर निस्तारण नहीं हो पाता है। उन्होंने कहा कि थलीसैंण का प्रभार एसडीएम श्रीनगर को सौंपा गया है। जिससे ग्रामीण छोटी-छोटी समस्याओं के समाधान को लेकर श्रीनगर के चक्कर काटने को मजबूर होना पड़ता है। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में एनसीसी की एक यूनिट खोली जाय। जिसका क्षेत्र के युवाओं को लाभ मिलेगा। थलीसैंण विकासखंड व तहसील मुख्यालय है, बावजूद इसके यहां एक बेहतर खेल मैदान तक नहीं है। जिसके चलते क्षेत्र की प्रतिभाओं को परेशानियां उठानी पड़ती है। भर्ती होने वाले युवा प्रशिक्षण व अभ्यास करने से भी वंचित रहते हैं। उन्होंने कहा कि थलीसैंण में एकमात्र सीएचसी स्वास्थ्य केंद्र हैं, लेकिन स्वास्थ्य केंद्र को जाने वाली सड़क बदहाल पड़ी हुई है। सह-संयोजक ने कहा कि पीजी कालेज थलीसैण में स्नात्तक व परास्नात्तक अध्ययन के लिए छात्र-छात्राओं को यातायात की बेहतर सुविधा नहीं मिल पा रही है। जिससे ग्रामीण क्षेत्रों के छात्रों को इसका खामियाजा भुगतना पड़ता है। उन्होंने कालेज में एमएससी व बीएड पाठ्यक्रम के संचालन की मांग भी की। डीएम ने छात्रों को सकारात्मक कार्रवाई का आश्वासन दिया। इस अवसर पर नगर मंत्री जगमोहन सिंह, कॉलेज मंत्री पूरन सिंह, सुमित, सुरेंद्र सिंह, शिवांग धस्माना आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!