बिहार में नीतीश की ही होगी ताजपोशी: अमित शाह

Spread the love

पटना। बिहार चुनाव की तैयारियों का शंखनाद करने आज जब अमित शाह वर्चुअल रैली करने मैदान में उतरे तो उन्हें आरजेडी के नेता तेजस्वी यादव की बार-बार याद आयी. अमित शाह ने नीतीश कुमार और सुशील मोदी से ज्यादा जिक्र तेजस्वी यादव का किया. केंद्रीय गृह मंत्री ने आंकड़े गिनाते हुए कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार ने बिहार के लिए खजाना खोल दिया है. नरेंद्र मोदी ने जिस सवा लाख करोड के पैकेज का एलान किया था उसे पूरा कर दिया है.
बीजेपी ने अमित शाह की वर्चुअल या फिर कहें डिजिटल रैली का नाम दिया था जनसंवाद. यानि जनता से संवाद. इस जनसंवाद में जब अमित शाह भाषण करने आये तो सबसे पहले ये सफाई देने में ही लगे कि ये सियासी रैली नहीं है. इसका बिहार चुनाव से कोई लेना-देना नहीं है. वे तो जनता का दुख-दर्द बांटने आये हैं. लेकिन उसके ठीक बाद तेजस्वी यादव का जिक्र किया. अमित शाह ने कहा ह्लआज जब मैं वर्चुअल रैली करने वाला था तो कुछ लोगों ने थाली बजाकर इस रैली का स्वागत किया. मुझे अच्छा लगा कि देर से ही सही उन पर मोदी जी की अपील का असर पड़ा है और उन्होंने कोरोना से लड़ने के लिए थाली बजायी.ह्व
केंद्रीय गृह मंत्री के भाषण में कुछ देर कोरोना से उत्पन्न संकट और मोदी सरकार के काम का जिक्र हुआ. बात फिर से तेजस्वी यादव पर आ गयी. अमित शाह बोले ह्लजो वक्रद्रष्टा लोग हमारी रैली पर पर राजनीति कर रहे हैं. मैं उनसे कहना चाहता हूं. किसने रोका है आपको. दिल्ली में बैठकर मौज करने के बजाय पटना से दरभंगा तक वर्चुअल रैली ही कर लेते. किसी ने रोका तो नहीं है.ह्व
अमित शाह तेजस्वी यादव का नाम लिये बगैर लगातार हमला करते रहे. उन्होंने कहा कि देश जब कोरोना से लड़ रहा था तो राजनीति वाले लोग कहां थे. बिहार में या दिल्ली में. केंद्रीय गृह मंत्री ने परिवारवाद को लेकर भी तेजस्वी प्रसाद यादव पर हमला बोला. उन्होंने कहा कि वे केंद्र और बिहार सरकार पर अंगुली उठाने वाले परिवारवादी लोगों से कहना चाहेंगे कि वैसे लोग आइना में अपना चेहरा देख लें.
शाह ने कहा- नीतीश ही फिर से बनेंगे मुख्यमंत्री
अमित शाह ने कहा कि उनकी रैली चुनावी रैली नहीं है लेकिन बिहार में जब अगला चुनाव होगा तो नीतीश कुमार के नेतृत्व में दो-तिहाई बहुमत की सरकार बनेगी. यानि अमित शाह ने एक बार फिर क्लीयर कर दिया कि बिहार में नीतीश कुमार ही एनडीए की ओर से सीएम पद के दावेदार होंगे. गौरतलब है कि एलजेपी के अध्यक्ष चिराग पासवान के बयानों से बिहार में सीएम पद की दावेदारी पर फिर से बहस छिड़ गयी थी. अमित शाह ने उसे एक बार फिर क्लीयर कर दिया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!