चकबंदी आंदोलन के प्रणेता गणेश वाइस आफ माउंटेंस लाइफ टाइम एचीवमेंट अवार्ड 2021 से सम्मानित

Spread the love
Backup_of_Backup_of_add

पहाड़ों में खेती बचाने को चकबंदी जरुरी
जयन्त प्रतिनिधि।
पौड़ी।
विकासखंड कल्जीखाल में सोमवार को चकबंदी दिवस धूमधाम से मनाया गया। इस मौके पर पिछले चालीस वर्षों से पहाड़ी क्षेत्रों में चकबंदी की मांग को लेकर आवाज उठा रहे चकबंदी आंदोलन के प्रणेता गणेश गरीब को मुख्य अतिथि क्षेत्र प्रमुख संगठन के प्रदेश महेंद्र राणा, जिला विकास अधिकारी वेदप्रकाश ने वाइस आफ माउंटेंस लाइफ टाइम एचीवमेंट अवार्ड 2021 के सम्मान से सम्मानित किया गया।
ब्लॉक सभागार में चकबंदी दिवस आयोजित कार्यक्रम का शुभारंभ बतौर मुख्य अतिथि क्षेत्र प्रमुख संगठन के प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र राणा, विशिष्ठ अतिथि जिला विकास अधिकारी वेदप्रकाश ने दीप प्रज्वलित कर किया। तत्पश्चात स्थानीय विद्यालय की बालिकाओं ने सरस्वती वंदना और स्वागत गीत की प्रस्तुति दी। क्षेत्र प्रमुख संगठन के प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र राणा ने चकबंदी को लेकर गणेश गरीब द्वारा किए गए संघर्ष को याद करते हुए कहा कि वे ब्लॉकों में आयोजित होने वाली क्षेत्र पंचायतों की बैठकों में चकबंदी को लेकर प्रस्ताव बनाने का सभी से आग्रह करेंगे। उन्होंने कहा कि चकबंदी ही पहाड़ों में खेती बचाने का बेहतर जरिया है। जिस पर सरकारों को भी गंभीरता से सोचना चाहिए। मनीष सुंद्रियाल ने कहा कि खेतों की संख्या धीरे-धीरे कम हो रही है इसके लिए चकंबदी जरुरी है। केवलानंद तिवाड़ी ने गणेश गरीब के साथ ही उनके द्वारा चकबंदी को लेकर अब तक किए गए संघर्षों से रुबरु कराते हुए कहा कि चकबंदी के लिए इच्छा शक्ति जरुरी है जो अब तक कि सरकारों में नहीं देखने को मिली। सामाजिक कार्यकर्ता जगमोहन डांगी ने कहा कि गणेश गरीब ने चालीस साल पहले दिल्ली में अपना कारोबार छोड़ अपने गांव सूला में आकर चकबंदी को लेकर आवाज उठानी शुरु की। लेकिन इस दिशा में सरकारों ने वायदे तो किए लेकिन जमीन पर कुछ नहीं किया। चकबंदी आंदोलन के प्रणेता गणेश गरीब ने कहा कि वे पिछले चालीस साल से इस दिशा में सरकारों का ध्यान आकृष्ठ करा रहे हैं लेकिन सरकार राजनीतिक चश्में से इसे देख कर अभी तक ठीक से कानून नहीं बना पाई है। उन्होंने कहा कि आगामी चुनावों में इसे घोषणा पत्र में शामिल किया जाना जरुरी है। अजय रावत ने बंदोबस्त की मांग सरकार से की। इस मौके पर जिला पंचायत सदस्य संजय डबराल, अर्जुन पटवाल, विनोद मनकोटी, रविंद्र सिंह, प्रमोद रावत, मुकेश बहुगुणा, जसवीर सिंह रावत, ओंकार सिंह, सुरजीत पटवाल, नरेंद्र सिंह नेगी, महेंद्र कुमार आदि शामिल थे।

ये भी हुए सम्मानित

खेती बॉड़ी के क्षेत्र में बेहतर कार्य करने पर मनोरथ रावत, विकास भट्ट, मनीष सुन्दरियाल, सुभाष रावत, सुनील कुमार, नरेंद्र सिंह नेगी को सम्मानित किया गया। इसके अलावा ग्रामीण क्षेत्रों की समस्याओं को प्रमुखता से उठाने के लिए जगमोहन डांगी, तनूजा, विक्रम पटवाल को भी सम्मानित किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!