सीएम नीतीश का प्रशांत किशोर पर अटैक, बोले- बिहार में भाजपा की मदद करना चाहते होंगे प्रशांत किशोर

Spread the love
Backup_of_Backup_of_add

पटना, एजेंसी। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपनी दिल्ली की राजनीतिक यात्रा के तीसरे दिन बुधवार को शरद पवार, दीपंकर भट्टाचार्य समेत कई नेताओं से मुलाकातकी। इसके बाद पत्रकारों द्वारा विपक्षी दलों की एकता से जुड़े सवाल पर नीतीश कुमार ने भाजपा पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि बिहार में सभी विपक्षी दल एकजुट हैं। राज्य के सात विपक्षी दल एक साथ हैं। अब भारतीय जनता पार्टी अकेली पड़ गई है, जिसके चलते भाजपा के वरिष्ठ नेता बेमतलब की बयानबाजी करते रहते हैं। सीएम नीतीश कुमार ने इस दौरान प्रशांत किशोर पर भी प्रतिक्रिया दी है।
दिल्ली में पत्रकारों से बातचीज के दौरान पत्रकारों ने जब मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से पूछा कि प्रशांत किशोर का कहना है कि बिहार में हुए बदलवा का देश में कोई असर नहीं पड़ेगा। इस पर सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि वे (प्रशांत किशोर) मेरे साथ आए थे ना। बिहार में जो करना है वो करे। प्रदेश में 2005 से क्या काम हो रहा है ऐसे लोगों को कुछ पता भी है। नीतीश कुमार ने कहा कि अगर कोई इस तरह की बात कहता है तो इसका मतलब यही है कि उसे बीजेपी के साथ रहने का मन होगा या फिर भाजपा की मदद करने की इच्छा होगी।
महागठबंधन की सरकार बनने के बाद बीजेपी लगातार सीएम नीतीश कुमार पर हमलावर है। भाजपा से राज्यसभा सांसद सुशील मोदी के बयानों पर उन्होंने कहा कि मेरा खिलाफ अनाप शनाप बोलने पर हो सकता है उनकी पार्टी उन्हें कोई जगह दे दे।
सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि मैं काम करने में यकीन करता हूं। हमलोग लगातार बिहार में काम कर रहे हैं। हमसे अलग होने के बाद बीजेपी की क्या हालत हुई। 2015 बीजेपी को कितनी सीटें मिली थी। पिछले लोकसभा चुनाव में हमलोग साथ थे तो तब जाकर इतनी सीटे मिली थीं। अगले चुनाव में सब पता चल जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!