पौड़ी गढ़वाल में कोरोना कोरोना संक्रमितों का आकंड़ा 15 हजार पार, 4261 एक्टिव, एकेश्वर बाजार पांच दिन के लिए बंद

Spread the love


जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार।
जनपद पौड़ी गढ़वाल कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ती जा रही है। जिले में कोरोना संक्रमितों का आकंड़ा 15 हजार पार कर गया है। शनिवार को भी जनपद में 250 लोग कोरोना संक्रमित पाये गये है। जबकि 308 कोरोना संक्रमित ठीक हुए है।
जनपद पौड़ी गढ़वाल के सीएमओ डॉ. मनोज शर्मा ने बताया कि पिछले 24 घंटे में पौड़ी गढ़वाल में 250 लोगों में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है। जिसमें दुगड्डा ब्लॉक के 38, एकेश्वर के 31, जयहरीखाल के 2, कल्जीखाल के 5, खिर्सू के 42, कोट के 22, पाबौ के 16, पौड़ी के 24, पोखड़ा के 14, रिखणीखाल के 6, यमकेश्वर के 29 और अन्य जिलों व राज्यों के 16 शामिल है। सीएमओ ने बताया कि कोरोना संक्रमितों को होम आइसोलेट कर दिया है। कोरोना संक्रमितों को दवाईयों की किट दी जा रही है। पौड़ी गढ़वाल में अभी तक 15609 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके है, जिसमें से 11348 कोरोना संक्रमित स्वस्थ हो चुके है। जिले में 4079 एक्टिव केस है। जिसमें से पौड़ी गढ़वाल में 3069, अन्य जिलों व राज्यों के 830 शामिल है। जबकि 180 लोगों ने स्वास्थ्य विभाग को गलत जानकारी दी है। जिले में 2715 कोरोना संक्रमित होम आइसोलेट में है। सीएमओ ने बताया कि अभी तक 182 कोरोना संक्रमितों की मौत हो चुकी है। उन्होंने कहा कि गांवों में कोरोना जांच के लिए शिविर लगाये जा रहे है। उन्होंने कोरोना संदिग्धों से शिविर में कोरोना जांच के लिए सैंपल देने की अपील की है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने जनपद वासियों से अपील की है कि वर्तमान समय में बढ़ते संक्रमण को देखते हुये कोविड-19 हेतु समय-समय पर स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी दिशा निर्देशों का पूर्ण पालन करें। कोविड के लक्षण छुपायें नहीं लक्षण दिखने पर तुरन्त सैपलिंग करवाने के साथ ही उपचार शुरू करें। जनपद में बाहर से आने वाले लोग अपनी जांच अवश्य कराते हुए क्वारनटीन का पूर्ण अनुपालन करें। अनावश्यक घरों से बाहर न निकले सामाजिक दूरी का पालन करें। समय-समय पर अपने हाथों को धोते रहे एवं सैनिटाइज करते रहें। मास्क अवश्य पहने, किसी भी प्रकार से घबराएं नहीं। सीएमओ ने कहा कि कोविड वैक्सीनेशन का कार्य विभिन्न चिन्हित स्थानों पर किया जा रहा है। वैक्सीनेशन का कार्य वैक्सीन की उपलब्धता के आधार पर किया जा रहा है। सभी नागरिकों से अपील है कि अपनी बारी आने पर टीकाकरण अवश्य करवायें।


एकेश्वर में 57 में से 31 की रिपोर्ट पॉजिटिव
कोटद्वार।
एकेश्वर ब्लॉक के एकेश्वर बाजार में विगत 17 मई को स्वास्थ्य विभाग की ओर से कोरोना जांच के लिए शिविर लगाया गया था। शिविर में एकेश्वर, पाताल, उच्चाकोट, बैलोड़ी, रैसोली, पणखेत, मलेथा, बड़ोली, हलाई, बग्याली, खतीगांव, गुराड़ मल्ला, गुराड़ तल्ला, जैतोली मल्ली, ककतुन, बलूली के 57 लोगों ने कोरोना जांच के लिए सैंपल दिया था। शनिवार को जांच रिपोर्ट आ गई है। 57 में से 31 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। उपजिलाधिकारी लैंसडौन/सतपुली संदीप कुमार ने बताया कि 17 मई को स्वास्थ्य विभाग की ओर से आयोजित शिविर में 57 लोगों ने कोरोना जांच के लिए सैंपल दिये थे। एकेश्वर बाजार के 6 लोगों सहित 31 लोगों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। उन्होंने बताया कि सुरक्षा की दृष्टि से एकेश्वर बाजार को पांच दिन के लिए बंद कर दिया गया है। वहां पर स्वास्थ्य विभाग और राजस्व विभाग की टीम तैनात की गई है।

रिखणीखाल के ढाबखाल में 17 लोगों की हुई कोरोना जांच
कोटद्वार। व
र्तमान में रिखणीखाल ब्लॉक के अधिकांश गांवों में लोग सर्दी, खांसी, बुखार से पीड़ित होने के बाद भी कोरोना जांच कराने से घबरा रहे है। शनिवार को स्वास्थ्य विभाग की ओर से रिखणीखाल ब्लॉक के एसएडी ढाबखाल में कोरोना जांच के लिए शिविर लगाया गया था, लेकिन शिविर में मात्र 17 लोग ही जांच कराने आये।
कोरोना माहामारी शहरों के बाद गांवों में तेजी से फैल रही है। इसके बावजूद भी कोरोना के संदिग्ध लक्षण वाले जांच कराने को तैयार नहीं है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से रिखणीखाल ब्लॉक के विभिन्न स्थानों पर अभी तक कोरोना जांच के लिए शिविर लगाये जा रहे है, लेकिन अभी तक किसी भी जांच केंद्र से 100 का आंकड़ा भी नहीं पहुंच पाया है। ग्राम पंचायत सिनाला प्रधान पूजा देवी ने बताया कि एसएडी ढाबखाल में शनिवार को कोरोना जांच के लिए शिविर लगाया गया। शिविर में 11 लोगों की आरटीपीसीआर और 6 लोगों की एंटीजन जांच के लिए सैंपल लिये गये। फार्मासिस्ट सुभाष चंद्र कोटनाला ने बताया कि कोरोना जांच के लिए लोग आगे नहीं आ रहे है। उक्त शिविर के बारे में ग्रामीणों को पूर्व में जानकारी दी गई थी, इसके बावजूद भी 17 लोग ही शिविर में कोरोना की जांच कराने आये। शिविर में डॉ. हेमंत, फार्मासिस्ट सुभाष चंद्र कोटनाला, गिरीश, जयवर्धन नेगी, सोनू आदि मौजूद थे।

कोविड अस्पताल श्रीकोट में तीन लोगों की मौत
जयन्त प्रतिनिधि। 
श्रीनगर।
कोविड अस्पताल श्रीकोट में 3 लोगों की मौत हो गई। अस्पताल के अनुसार, दो मरीज गंभीर अवस्था में रेफर होकर आए थे। उनका कोविड आईसीयू में उपचार चल रहा था। काफी प्रयास के बावजूद वह बचाए नहीं जा सके। कोविड अस्पताल के पीआरओ अरुण बडोनी ने बताया कि उफल्डा (श्रीनगर) की 49 वर्षीय महिला 18 मई को अस्पताल में भर्ती हुई थी। 22 मई की सुबह उसकी मौत हो गई। जिला अस्पताल रुद्रप्रयाग से 19 मई की सुबह रेफर होकर आई बाड़ा (रुद्रप्रयाग) की 75 वर्षीय बुजुर्ग की 21 मई की रात को मृत्यु हो गई। जाल मटाई (रुद्रप्रयाग) के 58 वर्षीय व्यक्ति ने 21 मई की रात दम तोड़ दिया। वह 10 मई को उप जिला अस्पताल श्रीनगर से रेफर होकर कोविड अस्पताल में भर्ती हुआ था।

गहड़ और खंडाह श्रीकोट बसोल्यूं बने कंटेनमेंट जोन
श्रीनगर।
श्रीनगर तहसील के अंतर्गत गहड़ बसोल्यूं (चलणस्यूं) और खंडाह श्रीकोट (कटलस्यूं) में 33 लोगों के कोरोना संक्रमित पाए जाने पर दोनों गांवों को कंटेनमेंट जोन बना दिया गया है। जबकि पौड़ी तहसील के छैतूड़
गांव में 12 लोगों के पॉजिटिव आने पर यहां कंटेनमेंट जोन बनाने पर विचार चल रहा है। वहीं, शनिवार को विकास खंड खिर्सू और कोट में 64 लोगों में कोराना संक्रमण की पुष्टि हुई है। एसडीएम श्रीनगर रविंद्र्र ंसह बिष्ट ने बताया कि खंडाह श्रीकोट में 25 लोगों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। गहड़ बसोल्यूं 8 लोग पॉजिटिव मिले हैं। कोरोना संक्रमितों के आसपास के लोगों से संपर्क को देखते हुए दोनों गांवों को कंटेनमेंट जोन बनाकर आवाजाही पर प्रतिबंध लगा दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!