केरल और कर्नाटक में तबाही मचाते हुए आगे बढ़ा तूफान टाक्टे, छह की मौत

Spread the love

नई दिल्ली,एजेंसी। अरब सागर से उठा समुद्री तूफान टाक्टे केरल, कर्नाटक और गोवा के तटवर्ती इलाकों में तबाही मचाते हुए रविवार को आगे बढ़ गया। इस दौरान भारी बारिश और तेज हवा से सैकड़ों घर उजड़ गए और हजारों लोगों ने सुरक्षित स्थानों पर शरण लेनी पड़ी। इस दौरान तूफान से जुड़े हादसों में छह लोगों की मौत हो गई। हालात से निपटने के लिए एनडीआरएफ के साथ नौसेना और वायुसेना भी मुस्तैद है।
एनडीआरएफ ने अपनी टीमों की संख्या 53 से बढ़ाकर 100 कर दी है। एनडीआरएफ के महानिदेशक एसएन प्रधान ने एक ट्वीट में कहा कि ये टीम केरल, कर्नाटक, तमिलनाडु, गोवा, गुजरात और महाराष्ट्र के तटीय क्षेत्रों में कूच के लिए तैयार हैं। हाई अलर्ट पर गुजरात रू तूफान के और जोर पकड़ने की आशंका के मद्देनजर गुजरात को हाई अलर्ट पर रखा गया है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आइएमडी) ने बताया कि चक्रवात टाक्टे बहुत गंभीर चक्रवाती तूफान में बदल गया है और वह गुजरात तट की ओर तेजी से बढ़ रहा है। आइएमडी ने गुजरात व दमन-दीव के लिए येलो अलर्ट जारी किया है।
मौसम विभाग के अनुसार टाक्टे के चलते महाराष्ट्र के तटवर्ती कई जिलों में 17 मई को तेज हवाओं के साथ भारी बारिश होने के आसार है। यह तूफान अगले कुछ घंटों में और विकराल होगा और सोमवार की शाम तक गुजरात पहुंच जाएगा। सिंधुदुर्ग और रत्नागिरि जिलों के साथ गोवा ज्यादातर बारिश और तेज हवाओं से प्रभावित होगा। मुंबई में भी तेज बारिश का अलर्ट है। हवा की गति लगभग 60 से 70 किमी प्रति घंटे होगी।
राजस्थान रू जोधपुर, उदयपुर, अजमेर व कोटा संभाग के जिलों में आंधी और बारिश की गतिविधियों में बढ़ोतरी की आशंका है। इस दौरान 40 से 50 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से हवाएं चलेंगी।
अहमदाबाद से मिली जानकारी के अनुसार गुजरात में निचले तटवर्ती इलाकों में रहने वाले 1़5 लाख लोगों को हटाकर सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया है। मौसम विभाग के अनुसार तूफान के कारण सोमवार की शाम तक हवाओं की रफ्तार 175 किमी प्रति घंटे तक हो सकती है।
टाक्टे के कारण केरल में हुई भारी बारिश से राज्य के कई बांधों में जल स्तर बढ़ने का खतरा पैदा हो गया है। संभावित खतरे से राज्य प्रशासन को अलर्ट कर दिया गया है।
बेंगलुरु से मिली जानकारी के अनुसार कर्नाटक के उत्तर कन्नड़, उडुपी, चिकमंगलुरु और शिवमोगा में एक-एक व्यक्ति की जान चली गई। तूफान से सात जिलों के 70 से ज्यादा गांव प्रभावित हुए हैं। कई जगह घर और पेड़ गिर गए हैं। गोवा में रविवार सुबह से ही तेज हवाएं चलनी लगीं। कई जगह बिजली के खंभे और पेड़ गिरने से राज्य के कई इलाकों में बिजली आपूर्ति ठप हो गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!